कुलभूषण को किसी भी कीमत पर बचाएंगे: राजनाथ सिंह

नई दिल्ली ( 12 अप्रैल): कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा को लेकर भारत सरकार ने सख्त रूख अख्तियार कर लिया है। भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान में फांसी की सजा सुनाए जाने पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारत सरकार उन्हें किसी भी कीमत पर बचाएगी। राजनाथ सिंह ने कहा कि जरूरत पड़ने कुलभूषण के मसले को अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में ले जाएंगे। इसके लिए पाकिस्तान पर अंतरराष्ट्रीय स्तर का दबाव बनाया जाएगा।


एक कार्यक्रम में गृह मंत्री ने कहा कि कुलभूषण को पाकिस्तानी एजेंसियों द्वारा अगवा किया गया और गिरफ्तार दिखाया गया। अगर वह जासूस होता तो उसके साथ वैध भारतीय पासपोर्ट नहीं होता। हम निंदा करते हैं कि पाकिस्तान ने पूर्व नियोजित हत्या की साजिश की है।


जाधव को पाकिस्तान में फांसी की सजा सुनाए जाने पर भारत ने पाकिस्तान को आगाह किया है कि इसके दुरगामी परिणाम होंगे। इसके अलावा विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद में स्पष्ट रूप से कहा था कि जाधव को बचाने के लिए सरकार 'परिपाटी से हटकर' कदम उठाएगी।


इसी बीच पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ के ताजा बयान के मुताबिक कुलभूषण जाधव चाहें तो अपनी फांसी की सजा के खिलाफ अपील कर सकते हैं.। जाधव के लिए अपील दायर करने की यह मियाद 60 वर्किंग दिन की है। वे चाहें तो इस दौरान अपनी फांसी के खिलाफ एक बार फिर अदालत जा सकते हैं।


कुलभूषण जाधव मामले पर पाकिस्तान ने सफाई देते हुए यह भी कहा कि जाधव के केस में तय कानूनी प्रक्रिया का पालन किया गया है। पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने पाकिस्तान की संसद में यह बयान दिया है।