डोकलाम पर बोले राजनाथ, कहा- हम शांति चाहते हैं संघर्ष नहीं

नई दिल्ली (21 अगस्त): डोकलाम में दो महीने से ज्यादा भारतीय और चीनी सेना आमने-सामने टैंट लगाकर डटी हुई है और विवाद को राजनीतिक कुटनीति के तहत सुलझाने की भी कोशिशें जारी है। इन सबके बीच केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि ये विवाद जल्द सुलझ जाएगा। चीन भी सकारात्मक रवैया अपनाएगा। उन्होंने कहा कि भारत ऐसा देश है जिसने कभी किसी पर आक्रमण नहीं किया। भारत आक्रांत और विस्तारवादी नहीं है। राजनाथ सिंह ने अटल वाजपेयी को उद्धत करते हुए कहा कि हम पड़ोसियों को कहना चाहते हैं कि हम शांति चाहते हैं संघर्ष नहीं।

साथ ही केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि दुनिया की कोई ऐसी ताकत नहीं है जो भारत की तरफ आंख उठाकर देख सके। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों में जब में लद्धाख गया था तो सुबह-सुबह पता चला कि कुछ जवान मुझसे मिलने आये हुए हैं। मैंने कहा कैसे इतनी ठंड में सुबह-सुबह कोई आ सकता है। लेकिन सुबह ना सिर्फ जवान आए बल्कि वो पूरे जोश में थे। उनके जोश को देखकर मैंने कहा कि दुनिया की कोई ऐसी ताकत नहीं जो भारत की तरफ आंख उठा कर देख सके। उन्होंने कहा कि हमारे सुरक्षबलों में इतना दमखम है कि देश की सुरक्षा पर कोई आंच नहीं आ सकती।