दूध की बर्बादी को लेकर क़ानूनी पचड़े में फंसे रजनीकांत

नई दिल्ली (30 मार्च) :  साउथ के सुपरस्टार रजनीकांत और उनके प्रशंसकों के ख़िलाफ़ मुकदमा दर्ज़ किया गया है। ये मुकदमा रजनीकांत की फिल्मों की रिलीज़ के वक्त हज़ारों लीटर दूध की बर्बादी के ख़िलाफ़ किया गया है।  याचिकाकर्ता डॉ आईएमएस मनीवान्ना ने रजनीकांत से मांग की है कि वो खुद अपनी इच्छा से आगे आएं और दूध की इस बर्बादी को रोकें।

मनीवान्ना ने अदालत से भी आग्रह किया है कि वो अभिनेता और उनके प्रशंसकों के ख़िलाफ़ निर्देश जारी करें। अदालत ने रजनीकांत को नोटिस भेजकर जवाब दाखिल करने के लिए कहा है। मुकदमा 26 मार्च को दर्ज़ किया गया। इस मामले में अगली सुनवाई 11 अप्रैल को होगी।

बता दें कि रजनीकांत का नाम उनकी पिछली रिलीज़ फिल्म 'लिंगा' को लेकर भी विवादों में घसीटा गया था। फिल्म के बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने की वजह से वितरकों ने मांग की थी कि रजनीकांत उनके नुकसान की भरपाई करें। 'लिंगा' पर कॉपीराइट उल्लंघन के आरोप भी लगे थे। शक्तिवेल और के आर रवि रथीनम ने आरोप लगाया था कि फिल्म उनकी कहानी से उठा कर बनाई गई।