राजेश खन्ना को खून से खत लिखती थी लड़कियां...

मुंबई (29 दिसंबर): हिंदी सिनेमा में वो भी एक दौर था जब बॉलीवुड के फलक पर चमकता था राजेश खन्ना नाम का सितारा। आज हिंदी सिनेमा के पहले सुपरस्टार का जन्मदिन है। राजेश खन्ना का दौर सिनेमा का गोल्डेन पीरिय़ड माना जाता है। उन्हें रोमांटिक हीरो के तौर पर बहुत पसंद किया गया। उनके लिए दीवानगी फैन्स के सिर चढ़कर बोलती थी। लड़कियां उन्हें खून से खत लिखती थी। उनकी कार लिपस्टिक के निशानों से लाल हो जाती थी।

मेरे सपनों की रानी गाते हुए राजेश खन्ना जब स्टारडम के शिखर पर पहुंचे तब उनके नाम पर ना जाने कितने बच्चों के नाम राजेश रख दिए गए। 1969 से 1975 तक का एरा राजेश खन्ना के नाम था। ये वो दौर था जब राजेश खन्ना सुपर स्टारडम के चरम पर थे। एक के बाद एक 15 सुपरहिट फिल्मों ने उन्हें हिंदी सिनेमा का सबसे रौशन सितारा बना दिया था।

सत्तर के दशक में राजेश खन्ना का जादू लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा था। राजेश खन्ना उस वक्त सुपरस्टार के सिंहासन पर काबिज थे। फिल्म इंडस्ट्री में राजेश खन्ना को प्यार से काका कहा जाता था। जब वे सुपरस्टार थे तब एक कहावत बड़ी मशहूर थी- ऊपर आका और नीचे काका।

फैन्स का जो प्यार राजेश खन्ना को मिला वैसा क्रेज, वैसी लोकप्रियता किसी और को हासिल नहीं हुई। लड़कियों ने उन्हें खून से खत लिखे। कई बार उनकी सफेद विदेशी कार को लड़कियां होठों की लिपिस्टिक से गुलाबी कर देती थीं, कईयों ने उनकी फोटो से शादी कर ली। कुछ ने अपने हाथ या पैर पर राजेश खन्ना के नाम का टैटू गुदवा लिया, कई लड़कियां उनकी फोटो तकिये के नीचे रखकर सोती थी और जब राजेश खन्ना ने अचानक डिंपल से शादी कर ली तो कई लड़कियों ने सुसाइड कर लिया।