जब अस्पताल में थे राजेश खन्ना और निर्देशकों ने बुक करा लिए थे सभी कमरे

मुंबई (29 दिसंबर): राजेश खन्ना की सभी फिल्में बॉक्स ऑफिस पर एक से बढ़कर एक बिजनेस करती थी। सभी फिल्में सुपर डुपर हिट रहीं। उस दौर में निर्माता-निर्देशक राजेश खन्ना के घर के बाहर लाइन लगाए खड़े रहते थे। निर्माता उन्हें मुंह मांगे दाम देकर साइन करना चाहते थे।

एक बार पाइल्स के ऑपरेशन के लिए राजेश खन्ना को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा था, तब ये राजेश खन्ना के स्टारडम का ही कमाल था कि उनको साइन करने के लिए लालाइत निर्माता-निर्देशकों ने अस्पताल के सभी कमरे बुक करा लिए थे ताकि वो राजेश खन्ना को अपनी कहानी सुना सकें।

राजेश खन्ना को रोमांटिक हीरो के रूप में बेहद पसंद किया गया। उनकी आंख झपकाने और गर्दन टेढ़ी करने की अदा के लोग दीवाने हो गए। अराधना, सच्चा झूठा, कटी पतंग, हाथी मेरे साथी, मेहबूब की मेहंदी, आनंद, आन मिलो सजना, आपकी कसम जैसी फिल्मों ने  बॉक्स ऑफिस के सभी रिकॉर्ड तोड़ कर रख दिए।

अभिनय के मामले में राजेश खन्ना की सर्वश्रेष्ठ फिल्मो का जब भी जिक्र आता है तो श्रृषिकेष मुखर्जी की आनंद का नाम जरुर लिया जाता है। इस फिल्म में राजेश खन्ना ने कैंसर पेशेंट का किरदार निभाया था, आज भी इस फिल्म को लोग याद करते हैं।

राजेश खन्ना की सफलता के पीछे उनका फिल्मों के गाने भी रहे। संगीतकार आरडी बर्मन और गायक किशोर का अहम योगदान रहा। काका आज हमारे बीच नहीं है, लेकिन उनकी फिल्में उनके गाने फैन्स के दिलों में सैकड़ों सालों तक जिंदा रहेंगा। भले ही स्टारडम का दौर बीत जाता है, लेकिन सितारों की यादें चाहने वालों के दिल में हमेशा कायम रहती है।