मिर्च-धनिया के नाम पर जहर का कारोबार, 4000 किलो मसाले पर चला बुल्डोजर

के जे श्रीवस्तन, न्यूज 24, जयपुर (10 अक्टूबर): त्योहारों के मौसम आने के साथ ही मिलावटखोरो के हौंसले बुलंद हो गए हैं। राजस्थान में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया जिसमें 100 नहीं 1000 नहीं 10 हज़ार भी नहीं बल्कि पुरे 40 हज़ार किलो मिलावटी मसलों को जब्त कर उन्हें नष्ट कर दिया गया है। इन मसलों में भूसे और घटिया मिलावटी चीजों के साथ ऐसे हानिकारक केमिकल मिले थे जिन्हें लगातार खाने के बाद लीवर तक डेमेज होकर केंसर की बिमारी होने की पुष्ठी लेब में हो चुकी थी।इन मसालों में हल्दी, धनिया, मिर्च समेत कई मसाले शामिल हैं। इन मसालों में ऐसे केमिकल मिले हुए थे, जो सेहत के लिए बेहद हानिकारक है। बेहद ही घटिया किस्म के इन मसालों में पशुओं को खिलाए जाने वाले भूसे के साथ ईंटों का बुरादा और इन्हें गहरा रंग देने के लिए खतरनाक केमिकल रंग मिला हुआ है। इन मसालों के इस्तेमाल से लीवर तक डैमेज हो सकता है। न्यूज़ 24 की सूचना के आधार पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारीयों ने पिछले कुछ महीनों में कई जगहों पर छापेमारी भी की थी। मिलावटी मसालों के सेम्पल भी लिए गए और उन्हें जयपुर के लैब के साथ पुणे की लेब में भी जांच के लिए भेजा गया जहां इनके ना केवल मिलावटी होने की पुष्टि हुई बल्कि इनके सेहत के लिहाज़ से बेहद ही खरतरनाक होने की भी अधिकारिक रूप से पुष्टि हो गयी।आपको बता दें कि स्वास्थ्य विभाग ने अगस्त महीने में जयपुर के जिस मसाला पीसने वाली फैक्ट्री पर छापा मारा गया वहां मिलावट का सब कुछ तैयार माल यही था। कुछ को कोल्ड स्टोरेज में रखा गया था तो कुछ को गोदाम में ताकि मौका मिलते ही बाज़ार की जरुरत के हिसाब से उन्हें दुकानों तक गुपचुप तरीके से आकर्षक पेकिंग के जरिये पहुंचा दिया जाए। लेकिन मिलावटी मसाले के इस कारखाने पर पड़े छापे और उसकी जांच रिपोर्ट आयी तो अधिकारी भी चौंक गए।मिलावखोर इन मसालों को सस्ते दामों में बेच अच्छी पैकिंग कर बेच रहे थे। न्यूज़ 24 ने जब एक दुकानदार से इस पर बात की तो उसने मिलावट की बात कबूल की। बहरहाल पहले चरण में 40 हज़ार किलो मसालों को बुल्डोज़र की सहायता से रोंदाकर पूरी तरह नष्ट कर दिया गया और अब स्वास्थ्य विभाग जयपुर से ही जब्त 30 हज़ार किलो और मिलावाटी मसलों को नष्ट करने की तैयारी में है।ज्यादा जानकारी के लिए देखिए न्यूज 24 की ये खास रिपोर्ट...