पुरुष वार्ड में महिला के प्रसव पर बोले वसुंधरा के मंत्री, कहा- हो जाती हैं ऐसी घटनाएं


बीकानेर (14 अक्टूबर): राजस्थान के बीकानेर के एक अस्पताल में इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। यहां डॉक्टरों की लापरवाही के कारण एक महिला को पुरुष वार्ड में ही प्रसव देने को मजबूर होना पड़ा है। वहीं इस मामले में राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने अजीबोगरीब बयान दिया है। उन्होंने कहा कि राज्य में 17 हजार अस्पताल हैं और कर्इ बार ऐसी घटनांए हो जाती है। हालांकि उन्होंने मामले की जांच और आरोपी डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है।

आपको बता दें कि बीकानेर के लूणकरनसर के सामुदायिक अस्पताल में डॉक्टरों की लापरवाही के कारण प्रसूता का प्रसव पुरुष वार्ड में ही हो गया। पूरा मामला 10 अक्टूबर का है। यहां 10 अक्टूबर को एक महिला को प्रसव के लिए लाया गया। दोपहर के समय डयूटी के समय डॉक्टर चिकित्सालय में सो रहे थे। प्रसूता के साथ आये परिजनों ने चिकित्सक को जगाने का प्रयास किया लेकिन काफी प्रयास के बाद ही नहीं उठे। उधर तड़पती हुई प्रसूता  ने पुरुष वार्ड में ही बच्चे को जन्म दे दिया। महिला का प्रसव होने के 20 मिनट बाद डॉक्टर उठे। 

डॉक्टर की लापरवाही के कारण ग्रामीणों में काफी रोष है तथा इस घटना के बाद परिजनों ने महिला को बिना छुटी ही घर लाया गया। इस मामले में आज प्रसूता का पति पानी की टंकी पर चढ गया है और आरोपी डॉक्टर को गिरफतार करने की मांग कर रहा है ग्रामीण भी बढी संख्या में प्रसुता के पक्ष में आ गए हैं। मौके पर पहुचे अधिकारीयों से ग्रामीण भी प्रभारी अधिकारी संतोष आर्य को हटाने की मांग कर रहें है।