राजस्थान: सरकार का बुजुर्गों को तोहफा,हवाई जहाज से मुफ्त में तीर्थयात्रा

नई दिल्ली(28 फरवरी): इसे चाहे बुजुर्गों को लुभाकर अपना वोट बेंक मजबूर करने की चाहत कहे या फिर इस वर्ग के लिए कुछ अलग करने की मंशा का नतीजा। राजस्थान सरकार हवाई जहाज से बुजुर्गों को मुफ्त में अब तीर्थ यात्रा करवा रही है। इसके लिए पहला जत्था मंगलवार को जयपुर से तिरुपति के लिए हवाई जहाज से रवाना हो गया है।

- इस साल आर्थिक रूप से कमजोर करीब 700 बुजुर्ग यात्रियों को सरकार तीर्थ यात्रा करवाना

चाहती है और बाकायदा ट्रेन के साथ अब हवाई जहाज को भी इसका माध्यम बनाया गया

है।

- राजस्थान सरकार की इस योजना का नाम है दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना।

- इस योजना में चयनित संभाग के 70 साल से अधिक आयु के बुजुर्गों को यह यात्रा करवा रही है। जिसके लिए पहले चरण में 33 यात्रियों को चुना गया है।

- इस मौके पर राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे ने कहा कि 70 साल के बुजुर्गों को तीन तीन दिन ट्रेन की लंबी यात्रा से बचाने के लिए प्लेन का यह प्रयास किया है। यह देखना है की इन बुजुर्गों को इससे कितनी सहूलियत होगी। मैंने विकल्प  दिया और उन्होंने अपनी मनपसंद का विकल्प चुना, आज देश में इस तरह की पहली फ्लाइट जा रही है। राजस्थान की खुशहाली को दुआओं में याद रखने की इनसे अपील की है। इसका पुन्य राजस्थान को भी मिलेगा।

- दरअसल अब तक राज्य सरकार वैष्णोदेवी, रामेश्वरम, जगन्नाथपुरी और तिरुपति तीर्थ सहित चारों धाम की निशुल्क तीर्थ यात्रा करवाई जाती है। हवाई जहाज को इसलिए माध्यम चुना गया है ताकि बुजुर्गों को अधिक वक़्त तक सफ़र में परेशान न होना पड़े जिस हवाई जहाज में बैठने का अब तक वे सपना देखते रहे उम्र के इस पढाव

में उसे पूरा होते भी देख सके।