राजस्थान में गुर्जरों को 5% आरक्षण देगी वसुंधरा सरकार, 21 से 26% हुआ OBC कोटा

जयपुर (26 अक्टूबर): गुजरात और हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद अगले साल राजस्थान में विधानसभा चुनाव होने हैं। लिहाजा राज्य की वसुंधरा सरकार अभी से नाराज गुटों को मनाने की कवायद में जुट गई है। इसी कड़ी में वसुंधरा सरकार ने राज्य में गुजरों को 5 फीसदी आरक्षण देने का फैसला किया है। इसके लिए वसुंधरा सरकार 21 फीसदी से ओबीसी कोटा बढ़ाकर 26 फीसदी कर दिया है।

इस सिलसिले में वसुंधरा सरकार ने विधानसभा में विधेयक पेश किया। राजस्थान सरकार ने गुर्जर समेत 5 जातियों को ओबीसी कोटा के तहत 5 फीसदी आरक्षण देने का विधेयक पारित कर दिया है। अब ओबीसी आरक्षण 21 % से बढ़ाकर 26% हो गया है। गुर्जर सहित 5 जातियों को चौथी बार अलग से 5% आरक्षण देने के लिए राजस्थान सरकार विधानसभा में ये नया बिल आई थी। इस विधेयक पर आज विधानसभा में मुहर लग गई।

अब तक राजस्थान में गुर्जरों को तीन बार 5% आरक्षण दिया गया। हर बार कोर्ट ने खारिज कर दिया. अब ओबीसी आरक्षण को 21 से बढ़ाकर 26% करने के साथ ही प्रदेश में कुल आरक्षण 54% हो जाएगा। यदि अगर नए ओबीसी एक्ट को किसी ने कोर्ट में चेलेंज किया तो अटकना तय माना जा रहा है और यदि ऐसा होता है तो इस बार गुर्जरों के साथ ओबीसी की 81 जातियां भी प्रभावित होंगी।