राजस्थान बजट: सिगरेट पर बढ़ाया टैक्स, GST को तैयार राजे सरकार

केजे श्रीवत्सन, जयपुर (8 मार्च): राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सरकार ने 2017-18 के लिए बजट पेश कर दिया है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने राज्य के 2017-18 के बजट में सिगरेट को छोड़कर कोई नया टैक्स नहीं लगाया है। वहीं वसुंधरा राजे ने कहा कि राजस्थान सरकार GST कानून को लेकर पूरी तरह तैयार है।

अपने बजट भाषण की शुरूआत करते ही वसुंधरा राजे ने कहा कि यह बजट प्रदेश के आर्थिक और सामाजिक व समग्र विकास के लिए खासा महत्वपूर्ण है साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि राज्य लगातार प्रगति के मार्ग पर तीन साल से आगे बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा कि बजट में किसान से लेकर व्यवसायियों तक को खुश करने का प्रयास किया है। बजट में सभी जिलो और क्षेत्रों को कवर करने का प्रयास किया गया है। इसके अतिरिक्त बजट में एयर फ्यूल पर लगने वाले टैक्स को कम किया गया है। जिससे राज्य में हवाई सफर सस्ता हो जाएगा। जबकि ऑनलाइन टिकट बुकिंग में लोगों को फायदा होगा। करीब ढाई घंटे के बजट भाषण में मुख्यमंत्री का ज्यादा जोर डिजिटल को बढ़ावा देने पर रहा।

बजट की मुख्य बातें...

- महिला सुरक्षा पर भी ध्यान देने की योजना

- बिजली पानी सड़क को सुदृढ़ करना हमारी प्राथमिकता

- शहरी जल योजना की भी शुरूआत प्रदेश के 2039 गांवों में पेयजल की योजना

- सरकार ने सड़कों का जाल बिछाने का काम किया

- केकड़ी बाइपास का निर्माण कराने

- जोधपुर में विकसित की जाएगी सौलर पाथ योजना

- इसके लिए वहां डबल लेन सड़क का करवाया जाएगा निर्माण

- जयपुर में सिंधी कैंप बस अड्डा को बनाया जाएगा मॉडल

- 67 मुख्य परियोजनाओं पर सरकार का फोस

- डिग्गियों के सुधर पर खर्च किए जाएंगे 100 करोड़ रुपए

- जाखम बांध से दूर होगी पेयजल समस्या

- 2039 गांव—ढाणी होंगे पेयजल परियोजनाओं से लाभांवित

- प्रदेश में स्थापित किए जाएंगे 1483 आरओ

- प्रदेश में 1175 सौलर प्रोजक्ट स्थापित किए जाएंगे

- पेयजल परियोजनाओं के लिए 80 करोड़ रुपए की सौगात

- 1.27 लाख कृषि कनेक्शन दिए जाएंगे

- चिकित्सा, शिक्षा और आवास पर रहेगा जोर

- किसानों के लिए बिजली पानी की बेहतर योजना

- रणथम्भौर को हवाई सेवाओं से जोड़ा जाएगा

- बीकानेर को नई दिल्ली से और जोधपुर को आगरा से जोड़ने जैसी कई योजनाओं की घोषणा

की है