क्यों नहीं हो रही है राज ठाकरे पर कार्रवाई?

नई दिल्ली (25 अगस्त): श्रीकृष्‍ण जन्मअष्‍टमी के मौके पर मुंबई में दही-हांडी उत्सव पर सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइंस को मानने से एमएनएस के प्रमुख राज ठाकरे ने इंकार कर दिया है। लेकिन उससे भी बड़ी खबर यह है कि राज ठाकरे द्वारा सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना करने पर अभी तक कार्रवाई क्यों नहीं हुई।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद राज ठाकरे ने सिर्फ वोट बैंक के चक्कर में गाइडलाइंस को ना मानने का ऐलान किया है। राज ठाकरे ने गोविंदाओं से अपील की है कि वो जिस तरह से पहले दही हांडी खेलते थे। उसी तरह से इस बार भी खेलें। हालांकि ठाकरे के इस विरोध के बाद पुलिस सतर्क हो गई है। लेकिन उनपर अभी तक किसी भी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

आपको बता दें कि इस बार दही हांडी उत्सव को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने गाइडलाइंस जारी की थी। जिसके तहत मुंबई पुलिस ने सभी पंडालों को हिदायत दी है कि वो अदालत की गाइडलाइंस के तहत ही उत्सव मनाएं। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के मुताबिक दही हांडी उत्सव में 18 साल से कम उम्र के बच्चे भाग नहीं ले सकेंगे। वहीं पिरामिड की ऊंचाई भी 20 फीट से ज्यादा नहीं होगी।