लेट-लतीफ और ड्यूटी से गायब रहने वाले रेलवे कर्मचारियों की अब खैर नहीं

नई दिल्ली ( 4 नवंबर ): अब रेलवे के उन कर्मचारियों की खैर नहीं है जो लेटलतीफ आॅफिस आते हैं और ड्यूटी से गायब रहते हैं। रेलवे ने तय किया है कि वह अपने सभी जोन और डिविजनों में इस साल जनवरी तक बायोमेट्रिक अटेंडेंस सिस्टम लागू करेगा। 

अभी यह व्यवस्था रेलवे बोर्ड, जोनल हेडक्वॉर्टरों और उसके चुनिंदा संस्थानों में है, लेकिन अब उसने तय किया है कि उसके सभी उपक्रमों और डिवीजनों में इसे लागू किया जाएगा। रेलवे बोर्ड के एक सीनियर अधिकारी के मुताबिक हालांकि पहले से ही यह कहा गया था कि धीरे धीरे यह हाजिरी सिस्टम पूरे रेलवे में लागू किया जाएगा लेकिन ऐसा हुआ नहीं। 

अब तय किया गया है कि रेलवे में उच्चस्तर पर इस सिस्टम को लागू करने की निगरानी की जाएगी और अगले साल जनवरी तक इसे सभी जगह लागू किया जाएगा। आधार आधारित इस हाजिरी सिस्टम में बायोमेट्रिक सिस्टम से अटेंडेंस लगती है।