मुंबई: प्रदर्शनकारी छात्रों से बोले पीयूष गोयल- बड़ी संख्या में निकली इन नौकरियों के लिये आवेदन करें

नई दिल्ली(20 मार्च): मुंबई में रेलवे में नौकरी की मांग को लेकर छात्रों का रेल रोको आंदोलन खत्म हो गया है। बता दें कि रेलवे में नौकरी के लिए छात्र प्रदर्शन कर रहे थे। छात्रों ने दादर और माटुंगा रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया था। छात्रों ने बातचीत का फैसला लिया है। यह बात रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक प्रेस वार्ता के दौरान कही। 

- उन्होंने कहा कि 'सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा निर्धारित दिशा निर्देशों व कानून का पालन करते हुए रेलवे ने एक नीति बनाई है जो निष्पक्ष, पारदर्शी और प्रतिस्पर्धात्मक भर्ती की प्रक्रिया सुनिश्चित कर रही है।' गोयल ने कहा कि 'रेलवे में वर्तमान में व्यापक स्तर पर भर्ती की प्रक्रिया चल रही है । सर्वोच्च न्यायालय द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों व कानून का पालन करते हुए भारतीय रेलवे ने एक नीति बनायी है जो कि एक निष्पक्ष, पारदर्शी और प्रतिस्पर्धात्मक भर्ती की प्रक्रिया सुनिश्चित करा रही है।' 

- उन्होंने कहा कि '20% पदों को 'Course Completed Act Apprentices' के लिए आरक्षित किया गया है, जो अपरेंटिस अधिनियम के तहत रेलवे प्रतिष्ठानों में शामिल थे। यह निर्णय Apprentices Act के section 22(1) और समय समय से आये माननीय सुप्रीम कोर्ट के विभिन्न निर्णयों के अनुसार लिया गया है।' गोयल ने कहा कि' रेलवे में होने जा रही भर्ती भारत में किसी भी संगठन द्वारा किए जाने वाली सबसे बड़ी भर्ती है। युवाओं के सभी वर्गों के लिए, जिनमें अप्रेन्टिसेस भी शामिल हैं, उन सभी के लिए पारदर्शी और निष्पक्ष तरीके से भारतीय रेलवे में शामिल होने का बहुत बड़ा अवसर है।' 

- उन्होंने कहा कि 'मैं अपने युवा मित्रों से अपील करता हूँ कि बड़ी संख्या में निकली इन नौकरियों के लिये आवेदन करें, जिसकी आखिरी तारीख 31 मार्च, 2018 है, और भर्ती की प्रक्रिया में शामिल हो, जिससे सभी आवेदकों को देश की सेवा करने का निष्पक्ष और समान अवसर प्राप्त हो।'