ऐसे बढ़ेगा रेलवे का किराया, अब जनता पर पड़ेगी दोगुनी मार...

नई दिल्ली (7 सितंबर): रेलवे ने जो फ्लेक्सी किराया सिस्टम लागू किया है, उसके अनुसार, पहले 10 फीसदी सीटों के अलावा ट्रेन की बाकी सीटों की बुकिंग के लिए अब पैसेंजर्स को डेढ़ गुना से ज्यादा किराया देना पड़ेगा।

इंडियन रेलवे के सूत्रों का कहना है कि यह नया सिस्टम 9 सितंबर से लागू हो जाएगा। राजधानी और दुरंतो ट्रेनों के लिए 10 फीसदी का अनुपात रखा गया है। इस आदेश के मुताबिक इन ट्रेनों की सभी श्रेणी के पैसेंजर्स को पहली 10 फीसदी सीटों के लिए तो बेस फेयर यानी अभी जितना किराया है, उतना ही देना होगा। लेकिन, 10 फीसदी सीटें बढ़ते ही अगली 10 फीसदी सीटों पर किराए में 10 फीसदी की बढ़ोतरी हो जाएगी।

इसी तरह से दूसरी दस फीसदी भरने के बाद तीसरी 10 फीसदी सीटों पर फिर से 10 फीसदी किराया बढ़ जाएगा। इस तरह से 50 फीसदी सीटें भरने के बाद अंतिम 50 फीसदी सीटों के लिए पैसेंजरों को बेस फेयर से करीब डेढ़ गुना ज्यादा किराया देना होगा। लेकिन, इन ट्रेनों के फर्स्ट एसी के पैसेंजर्स के लिए हर 10 फीसदी सीटों पर किराया बढ़ता जाएगा। इस तरह इस क्लास के पैसेंजर्स को अंतिम 10 फीसदी सीटों के लिए करीब दोगुना से भी ज्यादा किराया देना पड़ेगा।

इस चार्ट से समझें किराए का गणित...