नए साल पर रेलवे यात्रियों को देगा ये बड़ा तोहफा

नई दिल्ली ( 1 जनवरी ): रेल मंत्री सुरेश प्रभु की रेल यात्रियों को नए साल के अवसर पर दो बड़े तोहफे दिए जाने की योजना है। 1 जनवरी से देश भर की सभी ट्रेनों में विकल्प की सुविधा लागू होगी।  इस योजना के अन्तर्गत यदि आपका रेल टिकट वेटिंग में है और उस ट्रेन में कंफर्म नहीं हो सका है तो रेल प्रशासन आपको खुद फोन कर ऑफर करेगा कि आपके रूट की किसी और ट्रेन में बर्थ खाली है। रेल मंत्री की तरफ से दूसरा बड़ा तोहफा यह है कि सभी ट्रेनों में आरक्षित सीटों के लिए पहला चार्ट बनने के बाद कैंसिल हुई टिकटों को 10 फीसदी की छूट के साथ 1 जनवरी की तारीख से बेचा जाएगा।

ऐसा नहीं है कि यह विकल्प सुविधा किन्हीं विशेष ट्रेनों के लिए है। नए साल से रेल यात्रियों को देशभर के सभी ट्रेनों में यह विकल्प सुविधा मिलेगी। रेलवे ने देश में चलने वाली सभी ट्रेनों के लिए विकल्प टिकट सुविधा देने का फैसला किया है। रेल यात्रियों को एक जनवरी से विकल्प टिकट की सुविधा मुहैया कराई जाएगी। विकल्प टिकट की जानकारी आपके पंजीकृत मोबाइल पर एसएमएस द्वारा दी जाएगी। इसके बदले यात्रियों से एक भी रुपया नहीं लिया जाएगा। सहमत न होने पर आप अपना टिकट कैंसिल भी करवा सकते हैं।

.

नए साल पर 1 जनवरी से रेल यात्रियों को दूसरी बड़ी सुविधा यह मिलने जा रही है कि सभी ट्रेनों में आरक्षित सीटों के लिए पहला चार्ट बनने के बाद कैंसिल हुई टिकटों को 10 फीसदी की छूट के साथ बेचा जाएगा। दरअसल 10 फीसदी छूट संबंधित ट्रेन के संबंधित क्लास की आखिरी बुकिंग किराए के बेसिक किराए में दी जाएगी। यह व्यवस्था भी 1 जनवरी से लागू हो जाएगी। इसके लिए जारी सर्कुलर में रेल मंत्रालय ने सभी गाड़ियों में पहला चार्ट बनने के बाद बची सीटों के लिये करंट बुकिंग पर किराये में दस प्रतिशत की छूट देने का फैसला किया है।

पहला चार्ट बनने के बाद करंट बुकिंग की टिकट पर आखिरी टिकट के किराये से दस फीसदी कम किराया लिया जायेगा। ट्रेन के अंदर खाली हुई सीटों के लिए टिकट निरीक्षक यानी टीटीई को भी यात्रियों के लिए दस फीसदी कम किराये पर टिकट बना देने का अधिकार दिया गया है। रेलवे बोर्ड द्वारा जारी सर्कुलर के मुताबिक 10 फीसदी की छूट संबंधित क्लास की अंतिम बुक टिकट के बेसिक फेयर में दी जाएगी। टिकट पर लगने वाले आरक्षण फीस और सुपरफास्ट चार्ज यथावत लागू रहेंगे और इसके अलावा सर्विस टैक्स भी पहले जैसा ही लागू रहेगा।