'दिल्ली सहित कई रेलवे स्टेशनों का पानी पीने लायक नहीं'

नई दिल्ली (12 सितंबर):  रेलवे ने पहली बार स्वीकार किया है कि कई रेलवे स्टेशनों का पानी पीने लायक नहीं है। सेंट्रल पब्लिक हेल्थ ऐंड इन्वाइरनमेंट इंजिनियरिंग ऑर्गनाइजेशन और नैशनल इन्वाइरनमेंट इंजिनियरिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट के सामूहिक रिसर्च में यह बात सामने आई है। इस रिपोर्ट के चौंकाने वाले आंकड़ों के अनुसार रेलवे के 100 मिलीलीटर पानी में 10 यूनिट से ज्यादा थर्मोटॉलरेंट कोलिफॉर्म बैक्टीरिया (TCB) पाए गए हैं।

जिस पानी में यह बैक्टीरिया पाया जाता है वो पानी पीने लायक नहीं होता। यह पानी ने केवल प्लेटफार्म पर सप्लाई हो रहा है बल्कि स्टाफ क्वार्टर्स में भी सप्लाई किया जाता है। इस पानी को पीने से मियादी बुखार, डायरिया, पेचिस तथा अन्य रोग भी हो सकते हैं। यह भी पता चला है कि रेलवे के अधिकांश क्लोरिनेशन प्लांट बंद पड़े हैं। इसलिए दिल्ली, गाजियाबाद, वाराणसी और अंबाला में बिना क्लोरीनेशन के ही पानी की सप्लाई हो रही है।