रेल बजट को आम बजट में मिलाने से क्या होगा रेलवे को फायदा...

नई दिल्ली (21 सितंबर): कैबिनेट की बैठक में रेल बजट को आम बजट में शामिल करने को लेकर सहमति बन गई है। हालांकि लोगों को अभी तक इसके फायदे और नुकसान के बारे में कुछ जानकारी नहीं है।

जानें रेलवे को क्या होंगे फायदे...

1- रेलवे को जो अभी बजटीय सहायता मिलती है, बदले में उसे वार्षिक लाभांश अदा करना होता है। मतलब ये कि घाटे में होने के बावजूद उसे वित्त मंत्रालय को पैसा देना पड़ता है। अभी रेलवे 10 हजार करोड़ के आसपास लाभांश देता है जो अब उसे नहीं देना पड़ेगा। ये पैसा रेलवे विकास में लगाया जा सकेगा।

2- रेलवे पर इस साल नया बोझ है सातवां पे कमीशन की सिफारिशें लागू करना। 32000 करोड़ सब्सिडी का बोझ, नई 442 प्रोजेक्ट, परियोजनाओं के लिए पौन दो करोड़ निवेश की जरूरत। अब आर्थिक सिरदर्द वित्त मंत्रालय का।

3- रेलवे नई नीतियों पर तेजी से काम करेगा। निजी क्षेत्र को भी रेल चलाने की इजाजत मिल सकती है।

4- किराया बढ़ाने का टेंशन वित्त मंत्रालय का होगा।

5- रेलवे मंत्रालय का इस्तेमाल सियासी फायदे के लिए नहीं किया जा सकेगा।