ट्रैक पर चल रहा था मरम्मत का काम इसलिए हुआ उत्कल एक्सप्रेस हादसा: रेलवे

नई दिल्ली(20 अगस्त): मुजफ्फरनगर के पास खतौली में शनिवार को हुए उत्कल एक्सप्रेस हादसे पर रेलवे बोर्ड के मेंबर मोहम्मद जमशेद ने मीडिया से बात करते हुए ये माना कि शुरुआती जांच में रेलवे की ही गलती सामने आ रही है। उन्होंने कहा आज शाम तक संबंधी जोनल हेड से इस बारे में प्राथमिक रिपोर्ट मांगी गई है ताकि प्राथमिक तौर पर दोषियों को दंडित किया जा सके।

- रेलवे ने आज जारी आंकड़ों में साफ किया कि उत्कल एक्सप्रेस रेल हादसे में कुल 20 लोग मारे गए जबकि 92 घायल हैं। 

- विस्तृत जांच की जिम्मेदारी रेल मंत्रालय ने कमिश्नर रेलवे सेफ्टी को सौंपी गई है। वह कल से इस हादसे के तकनीकी, मानवीय और बाहरी पक्ष पर पूरी जांच कर बताएंगे कि आखिर इस रेल हादसे के लिए वास्तविक दोषी कौन है।

- इसके अलावा रेलवे बोर्ड के सदस्य मो.जमशेद ने ये भी बताया कि स्थानीय पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ गैरइरादतन हत्या सहित कई धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। यानि दोषी पाए गए लोगों पर इसी दिशा में मुकदमा चलेगा। 

- उन्होंने जानकारी दी कि हादसे वाली जगह पर रात 8 बजे तक सभी दुर्घटनाग्रस्त कोचों को हटा लिया जाएगा। इसके बाद पटरियों की मरम्मत का काम शुरू होगा। यानि रात 10 बजे तक रेल यातायात सामान्य होने की संभावना है।