राहुल गांधी जाएंगे सहारनपुर, दलित पीड़‍ितों से मिलेंगे

नई दिल्ली (26 मई): दलित और ठाकुरों के बीच हो रही जातीय हिंसा की आग में झुलस रहे यूपी के सहारनपुर में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी शनिवार को पीड़ितों से मिलने जाएंगे। कांग्रेस ने सहारनपुर में हुई हिंसा के लिए उत्तर प्रदेश सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।

कांग्रेस ने सहारनपुर में हिंसा के लिए उत्तर प्रदेश सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए डीएम और एसएसपी के खिलाफ एससी/एसटी (प्रिवेंशन ऑफ एट्रोसिटीज) एक्ट के तहत कार्रवाई करनी चाहिए। कांग्रेस एससी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष के. राजू ने कहा कि प्रदेश सरकार अपराधियों को संरक्षण दे रही है। उनके हौसले बुलंद है, क्योंकि उन्हें यकीन है कि प्रशासन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करेगा। एक खास समुदाय की होने की वजह से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उन्हें बचा लेंगे।

राजू ने कहा कि एससी/एसटी एक्ट के तहत प्रशासन की जिम्मेदारी है कि वह दलितों को संरक्षण दे, पर सहारनपुर के डीएम और एसपी अपनी जिम्मेदारी निभाने में विफल रहे हैं। इसलिए उनके खिलाफ एक्ट के तहत कार्रवाई होनी चाहिए। साथ ही पीड़ित दलितों के पुर्नवास की व्यवस्था की जानी चाहिए।

के. राजू ने कहा कि प्रदेश सरकार को सभी दोषियों को फौरन गिरफ्तार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक्ट के मुताबिक, पुलिस को दो माह के अंदर दोषियों के खिलाफ विशेष अदालत में चार्जशीट दाखिल करनी होगी। इसके साथ विशेष अदालत को भी इस तरह के मामलों में 150 दिन में फैसला करना होगा।

कांग्रेस ने कहा कि प्रदेश सरकार एससी/एसटी प्रिवेंशन ऑफ एट्रोसिटीज एक्ट को गंभीरता से नहीं ले रही है। राजू ने कहा कि प्रदेश सरकार को एक्ट को पढ़कर अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करना चाहिए। भीम आर्मी के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि जब तक लोग अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाएंगे, इस तरह की समूहों का गठन होता रहेगा। लिहाजा, सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।