भारत में 3 बड़ी समस्याएं- बेरोजगारी, बदहाल किसान और असहिष्णुता:राहुल गांधी

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 जनवरी):  दुबई में भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि इस समय भारत 3 बड़ी समस्याओं से जूझ रहा है। पहली है बेरोजगारी. उन्होंने आगे कहा कि लाखों युवा रोजगार की समस्या से जूझ रहे हैं। इसका कारण है नोटबंदी और जीएसटी. भारत में नोटबंदी करने से लाखों लोगों का रोजगार छिन गया।  इसके बाद जीएसटी लागू कर दिया गया था जिसमें बहुत से लोग बर्बाद हो गए। हम फ्रंट फुट पर रोजगार को रखना चाहते हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि भारत की दूसरी सबसे बड़ी समस्या है कि देश के किसान मुश्किल में हैं। किसान संघर्ष कर रहा है, लेकिन उसे अपना भविष्य नहीं दिखाई दे रहा है। हमें एक और हरित क्रांति की जरूरत है जिससे किसानों की हालत सुधारी जा सके खेती में नई टेक्नॉलजी की जरूरत है।उन्होंने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि आपको पता ही होगा कि किसान कितनी समस्याओं से जूझ रहे हैं. आगर भारत का किसान सफल होगा तो भारत सफल होगा।  

राहुल ने भारत की तीसरी समस्या बताते हुए कहा कि देश में असहिष्णुता का माहौल है।  क्या आप ऐसे भारत की कल्पना कर सकते हैं जहां माना जाता हो कि एक ही विचार सही है और बाकी गलत हैं।  आज की डेट में भारत बंटा हुआ है यह यहां का एनआरआई भी जानता है, धर्म में जाति में, अमीर और गरीब में लोगों को बांटा जा रहा है। क्या कोई बंटी हुई क्रिकेट टीम जीत सकती है। बल्लेबाज बॉलर से बात न करे, कैप्टन विकेटकीपर से बात न करे तो क्या टीम सफल हो सकती है। कुछ लोग कहते हैं कि भारत को कांग्रेस मुक्त बनाना है लेकिन हम कभी भारत को भाजपा मुक्त करने की बात नहीं करते। राहुल ने कहा कि भारत के लोगों को एकसाथ आने की जरूरत है. भारत का हर स्टेट जब तक मजबूत नहीं होगा, भारत मजबूत नहीं हो पाएगा. पहले यह सोचना होगा कि हम पहले भारतीय हैं बाद में कुछ और।  

उन्होंने कहा कि मेरे मरने तक मेरी आंखें और मेरे दरवाजे आपके लिए खुली रहेंगी। 2019 के चुनाव के लिए कांग्रेस मेनिफेस्टो तैयार कर रही है। उन्होंने बताया कि हमने सैम पित्रोदा से कहा है कि यूएई, अबूधाबी, अमेरिका यानी जहां भी एनआरआई रहते हैं, उनसे बात कर जानें कि उन्हें क्या चाहिए. हम अपने मेनिफेस्टो में उसे शामिल करेंगे।