हम हर शहर में युवाओं के लिए मुफ्त कोचिंग करेंगे शुरू: राहुल गांधी

नई दिल्ली ( 16 जनवरी ): उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में सभी पार्टियां पूरा जोर लगा रही हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सीतापुर में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करारा हमला बोला। राहुल ने कहा कि मेक इन इंडिया का औचित्य जब स्थानीय रोजगार को ही तवज्जो नहीं दी जा रही है। राहुल ने कहा कि जब स्थानीय रोजगार को पीएम ने मदद नहीं की तो मेक इन इंडिया के क्या औचित्य है। उन्होंने कहा कि हम उत्तर प्रदेश के भविष्य को बदलना चाहते हैं। राहुल ने कहा कि हमारी सरकार आने के बाद हम हर शहर में युवाओं के लिए मुफ्त में कोचिंग की शुरुआत करेंगे। उन्होंने कहा कि मोदीजी सिर्फ सत्ता में रहना चाहते हैं, सच्चाई नहीं बताना चाहते हैं कि यूपी में इतनी शक्ति है कि पूरी दुनिया की फैक्ट्री बन जाएगा। उन्होंने कहा कि मोदीजी किसानों का कर्जा माफ करने के लिए आपको यूपी में सरकार की जरूरत नहीं है, आप पीएम हैं, कर्जा माफ कर सकते हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा के लोगों ने सिर्फ झूठे वायदे किए हैं। मोदी सरकार ने दो करोड़ लोगों को रोजगार देने का वायदा किया था, लेकिन अभी तक सिर्फ एक लाख लोगों को ही रोजगार दिया गया है। पीएम मोदी ने सरकार बनने के बाद लोगों के खाते में 15-15 लाख रुपए देने व किसानों की कर्जमाफी का वायदा किया था, लेकिन इन तमाम वायदों को केंद्र सरकार ने पूरा नहीं किया है। मोदी जी पूरे देश को झाड़ू पकड़ाकर खुद विदेश चले गए। नोटबंदी के फैसले पर हमला बोलते हुए राहुल ने कहा कि पीएम ने देश में अपने कुछ चंद उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने का काम किया और इन्हीं उद्योगपतियों के लिए पीएम ने देश के गरीब, किसानों को बैंक लाइनों में खड़ा कर दिया। राहुल ने पूछा कि क्या बैंको की लाइनों में लगे गरीब और मजदूर चोर हैं, क्या आपने कभी बैक की लाइनों में सूट-बूट वालों को देखा है।

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी ने 50 परिवारों को लाभ पहुंचाने के लिए नोटबंदी का काम किया और उन्हें 1.40 लाख करोड़ रुपए का कर्ज माफ किया। मेक इन इंडिया की आलोचना करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि देश में जो फोन आ रहे हैं वह चाइना के हैं, हमारे देश का पैसा चीन जा रहा है। हम चाहते हैं कि हमारे यहां का उत्पाद चीन में बिके और लोगों के पास पैसा आए। मन की बात पर तंज कसते हुए राहुल ने कहा पीएम को चाहिए कि अब मन की बात बंद करके वह जनता की परेशानी को देखें। राहुल गांधी ने कहा कि देश में नफरत बांटने वालों को दूर करना है और उनके एजेंडे को किसी भी हाल में सफल नहीं होने देना है।