न्याय योजना पर रघुराम राजन समेत कई अर्थशास्त्रियों से चर्चा की: राहुल गांधी

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (27 मार्च): कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जयपुर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि न्यूनतम आय योजना (न्याय) के लिए उनकी पार्टी ने रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन सहित दुनियाभर के प्रमुख अर्थशास्त्रियों से चर्चा की थी। राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी छह महीने से इस विचार पर काम कर रही थी क्योंकि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 15 लाख रुपये बैंक खाते में डालने के झूठ को सच्चाई में बदलना चाहती थी।

राहुल गांधी ने कहा, 'प्रधानमंत्री ने सभी नागरिकों के अकाउंट में 15 लाख रुपये ट्रांसफर करने का ऐलान किया था। हमें यह एक अच्छा आइडिया लगा था। बैंक अकाउंट में 15 लाख रुपये, लेकिन उन्होंने वादा पूरा नहीं किया। अपनी योजना के लिए हमने छह महीने पहले से तैयारी शुरू कर दी थी और इस वादे को हम हकीकत में उतार कर रहेंगे।' गांधी ने आगे कहा कि उनकी पार्टी ने इस पर सभी बड़े अर्थशास्त्रियों की राय ली है।

वहीं योजना आयोग की पूर्व सदस्य सैयदा हमीद ने इस योजना को अच्छा बताया है। उन्होंने कहा कि यह भारत की तस्वीर बदल सकती है। लेकिन, इससे खजाने पर बोझ बढ़ जाएगा। लेकिन, देश में अमीरों के पास गलत तरीके से कमाया हुआ बहुत सारा पैसा है। एक ऐसा नेता जो ईमानदार हो और लोगों की परवाह करता हो, वह इसका इस्तेमाल योजना में कर सकता है।