हमने 70 साल तक संवैधानिक संस्थाओं का आदर किया, मोदीजी ने 2.5 साल में बंद कर दिया

नई दिल्ली (11 जनवरी): नोटबंदी के बाद कांग्रेस ने पीएम मोदी पर हमला तेज कर दिया है। कांग्रेस इस मुद्दे पर किसी भी सूरत में पीएम मोदी का पीछा छोड़ने को तैयार नहीं है। इसी कड़ी में कांग्रेस ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में जन वेदना सम्मेलन का आयोजन किया।  जन वेदना सम्मेलन में पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष ने जमकर तंज कसा।

राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने 70 साल संस्थाओं, न्यायपालिका, भारतीय रिजर्व बैंक और प्रेस का सम्मान किया। लेकिन मोजी जी और आरएसएस ने ढाई साल में इसे बंद कर दिया। आरएसएस और बीजेपी के लोग यह मानते हैं कि डेमोक्रेसी में किसी के विचार मायने नहीं रखते। अब बीजेपी के लोग कहते हैं कि  तुम लोग कौन हो? अब देश को सिर्फ नरेंद्र मोदी और मोहन भागवत चलाएंगे। हम देश को बताना चाहते हैं कि हिंदुस्तान की जो संस्थाएं हैं, उनको हम बचाकर रखेंगे।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी और हमारे प्रधानमंत्री को ये कहने की आदत हो गई है कि 70 साल में कांग्रेस ने क्या किया। देश के लोग जानते हैं कि हमने क्या किया। लोग जानते हैं कि कैसे हमारे नेताओं ने देश के लिए खून और आंसू बहाए। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम को गरीबों और किसानों के साथ समय बिताने की जरूरत है। ये जानने की जरूरत है कि क्यों लोग गांव छोड़ रहे हैं?