ब्रिटिश नागरिकता संबंधी नोटिस पर बोले राहुल- 'शीघ्र देंगे जवाब'

नई दिल्ली (14 मार्च) :  कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि वे ब्रिटिश नागरिकता के संबंध में संसद की एथिक्स कमेटी की ओर से दिए गए नोटिस पर शीघ्र प्रतिक्रिया देंगे। लोकसभा एथिक्स कमेटी ने राहुल को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए पूछा है कि उन्होंने अपने आप को ब्रिटिश नागरिक क्यों घोषित किया है।

एथिक्स कमेटी के सदस्य अर्जुन मेघवाल ने बताया कि राहुल गांधी ने ब्रिटेन की एक कंपनी में जमा अपने काग़ज़ात में खुद को ब्रिटिश नागरिक माना है। बता दें कि इस मामले में सबसे पहले बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने शिकायत की थी।

इस मामले में कांग्रेस का कहना है कि व्यक्तिगत प्रतिशोध का मामला है जिसे बीजेपी आगे बढ़ा रही है। स्वामी ने इस बारे में पीएम नरेंद्र मोदी को कुछ दिन पहले चिट्ठी लिखी थी। फिर बीजेपी सांसद महेश गिरी ने लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन को चिट्ठी लिखी। इसके बाद स्पीकर ने ये मामला लालकृष्ण आडवाणी की अध्यक्षता वाली एथिक्स कमेटी के पास भेज दिया गया। कमेटी ने राहुल को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

स्वामी का आरोप था कि राहुल ने ब्रिटेन में रजिस्टर्ड कंपनी बैकऑप्स के डायरेक्टर के तौर पर खुद को ब्रिटेन का नागारिक घोषित किया था। यह कंपनी अब बंद हो चुकी है।