अध्यक्ष बनने के बाद पहले इंटरव्यू में बोले राहुल गांधी, कहा-'दोस्त थे पटेल-नेहरू'

नई दिल्ली (17 दिसंबर): कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी ने अपना पहला इंटरव्यू पार्टी के मुखपत्र नैशनल हेराल्ड को दिया है। अपने इंटरव्यू में राहुल ने जहां मोदी सरकार पर जमकर वार किया और नोटबंदी-जीएसटी जैसे कदमों की तीखी आलोचना की। वहीं उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में परिवर्तन होगा और नए उत्साहजनक चेहरे सामने आएंगे। 

इंटरव्यू में राहुल ने कहा कि देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की कथित उपेक्षा को लेकर मोदी के निशाने पर रही कांग्रेस पार्टी के नवनिर्वाचित अध्यक्ष ने कहा, ''झूठ फैलाया जा रहा है कि सरदार पटेल और जवाहर लाल नेहरू जी में नहीं बनती थी। ये सरासर झूठ है। जवाहर लाल नेहरू और सरदार पटेल गहरे दोस्त थे। दोनों ने साथ-साथ जेल में वक्त गुजारा है। कुछ मुद्दों पर दोनों में मतभेद होते थे, लेकिन वे दोस्त थे। और, सरदार पटेल जी के तो आरएसएस और संघ की उस विचारधारा के बारे में काफी कटु विचार थे, जिसको नरेंद्र मोदी जी अपनाते हैं।' 

राहुल ने कहा गुजरात चुनाव में जातिगत आधार पर चुनाव लड़ने के आरोपों पर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा,'अजीब सी बात है...हर समाज के लोग हमारे साथ खड़े हैं, अल्पेश, जिग्नेश, हार्दिक, सब एकसाथ खड़े हैं। अलग-अलग समाज के लोग। शुरुआत में बीजेपी कहती है कि हम ओबीसी मुद्दे पर यह चुनाव लड़ेंगे, तो अजीब सी बात है कि कहते वो हैं, बांटते वो हैं, और फिर हमारे बारे में कहते हैं कि हम बांट रहे हैं। मुद्दा यह है कि हार्दिक एक पटेल हैं, जिग्नेश एक दलित हैं और अल्पेश एक ओबीसी। सभी समुदाय कांग्रेस के मंच पर एकजुट हुए हैं। ऐसे में आप हम पर जातीयता का आरोप कैसे लगा सकते हैं। ये सब हमारे मंच पर एक साथ हैं।'