राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की फिर उठी मांग

 

नई दिल्ली (6 दिसंबर): राहुल गांधी को उपाध्यक्ष से कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की मांग लगातार जोर पकड़ती जा रही है।  सोनिया गांधी की अस्वस्थता के बीच एकबार फिर राहुल गांधी को पार्टी की कमान सौंपे जाने की मांग उठी है। अखिल भारतीय कांग्रेस समिति यानी AICC के सचिवों ने सोनिया गांधी से राहुल गांधी को जल्द से जल्द पार्टी अध्यक्ष बनाने की मांग की है। कुछ सचिवों के मुताबिक पार्टी के कुछ बड़े नेता निहित स्वार्थ की वजह से राहुल गांधी को पार्टी की कमान दिए जाने में अड़ंगा डाल रहे हैं जो पार्टी हित में नहीं है। 

इससे पहले कांग्रेस कार्य समिति यानी CWC ने भी 7 नवम्बर को हुई अपनी बैठक में राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष नियुक्त करने के लिए सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया था। लेकिन राहुल को अध्यक्ष बनाने के सही समय को लेकर मतभेद की वजह से इस मुद्दे को टाल दिया गया था। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, राहुल को अध्यक्ष पद पर बिठाने के सही समय को लेकर पार्टी में अभी भी मतभेद हैं। 

कुछ लोग वर्तमान में चल रहे शीतकालीन सत्र के बाद ही राहुल को अध्यक्ष बना देने के पक्ष में हैं। दूसरी ओर, पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेता यूपी और पंजाब चुनाव के बाद राहुल को अध्यक्ष बनाने की वकालत कर रहे हैं। इन नेताओं का स्पष्ट मानना है कि अगर राहुल को इस समय पूर्ण अध्यक्ष बनाया जाता है तो चुनाव में मिले संभावित नकारात्मक परिणाम से राहुल की छवि खराब होगी। इससे राहुल को भविष्य में भाजपा रहित सभी पार्टियों के गठबंधन का नेता बनाने में परेशानी आएगी। 

पंजाब कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह के मुताबिक राहुल गांधी को जल्द से जल्द पार्टी अध्यक्ष बनाया जाए। इससे पार्टी को फायदा होगा और आने वाले चुनावों में कांग्रेस और मजबूत होकर उभरेगी।