राहुल गांधी का बीजेपी पर पलटवार- क्या मंदिर जाना मना है

नई दिल्ली(12 दिसंबर): कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात चुनाव में प्रचार के अंतिम दिन सीएम विजय रूपाणी और पीएम नरेंद्र मोदी को निशाना बनाया। राहुल ने न सिर्फ गुजरात में विकास को लेकर पीएम मोदी और रुपाणी से जवाब मांगा। बल्कि उनके मंदिर जाने को लेकर बीजेपी की ओर से उठाए जा रहे सवालों का भी जवाब दिया। राहुल ने गुजरात चुनाव में प्रचार के अंतिम दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। 

राहुल गांधी ने बीजेपी की ओर से उनके मंदिर जाने को लेकर उठाए जा रहे सवालों पर पलटवार किया। राहुल ने कहा कि उन्हें जहां भी मौका मिलता है, वह मंदिर जाते हैं। गुजरात में मंदिरों में जाने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘मैं केदारनाथ भी गया था, वो गुजरात में है क्या?’

मोदी का विकास एकतरफा

- राहुल गांधी ने कहा- "बीते 22 साल में मोदी और विजय रूपाणी ने वन साइडेड विकास किया है। केवल 10 लोगों का ही विकास किया। नैनो के लिए 33 हजार करोड़ कहां गए?' बीजेपी इस चुनाव में अपनी पोजिशन बरकरार नहीं रख पाई। ये नरेंद्र मोदी के अंतिम भाषणों में साफ दिख जाता है। पीएम या तो कांग्रेस की बात कर रहे हैं या अपनी बात कर रहे हैं

GST ने गुजरात के व्यापारियों को नुकसान किया

- राहुल ने कहा, "गब्बर सिंह टैक्स ने गुजरात के व्यापारियों को जमकर नुकसान किया है। गुजरात की एक टीचर ने मुझे रोते हुए बताया कि महंगाई तो बढ़ी है लेकिन हमारी सैलरी नहीं बढ़ी।''

- कांग्रेस किसानों का कर्ज माफ करेगी, युवाओं को रोजगार देंगे

- राहुल गांधी ने कहा- "हम युवाओं को रोजगार देंगे, किसानों का कर्ज माफ करेंगे। हमने 3-4 महीने में गुजरात की जनता की बात सुनी है। हम जो भी बात करते हैं, वो हमने की है, चाहे मुआवजा हो, कर्ज माफी, एजुकेशन या फिर किसानों को दी जाने वाली मिनिमम सपोर्ट प्राइस हो।''

- मैं मोदी के बारे में गलत नहीं बोल सकता

- राहुल गांधी ने कहा- "मोदीजी मेरे बारे में गलत बोलते हैं, पर मैं उनके बारे में गलत नहीं बोलूंगा। चुनाव नरेटिव यानी इश्यूज पर जीते जाते हैं। मोदीजी ने एक बार भी अपने भाषणों में भ्रष्टाचार (राफेल डील) का कोई जिक्र नहीं किया। हमने उनसे पूछा कि जिस उद्योगपति की कंपनी ने कभी प्लेन नहीं बनाया, जिसपर 45 हजार करोड़ का कर्ज है, उसे डील क्यों दी?