बीजेपी-आरएसएस को उखाड़ फैंकने के लिए सबको मिलकर लड़ना होगा- राहुल गांधी


नई दिल्ली (17 अगस्त):
नीतीश कुमार के महागठबंधन से अलग होकर बीजेपी में शामिल होने के फैसले नाराज चल रहे शरद यादव ने आज दिल्ली में अपना शक्ति परीक्षण कर रहे हैं। शरद यादव की साझी विरासत बचाओ सम्मेलन में कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी पार्टियों के बड़े नेताओं ने हिस्सा लिया। शरद यादव के इस सम्मेलन में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी हिस्सा लिया और शरद यादव की मंच से प्रधानमंत्री मोदी और संघ पर जमकर निशाना साधा। 

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने आरएसएस और मोदी सरकार पर बड़ा हमला करते हुए कहा, तब तक तिरंगे को सलामी नहीं दी जब तक सत्ता में नहीं आए। आरएसएस कहती है, ये देश हमारा है, तुम इसके नहीं हो। गुजरात में दलितों  की पिटाई की और कहा ये देश हमारा है। तुम इसके नहीं हो। आरएसएस जानती है कि उनकी विचारधारा से चुनाव नहीं जीत सकती है, इसलिए वो अपने लोग हर संस्थान में रखने लगी है। उन्होंने कहा, युवा काम करना चाहता है, लेकिन मोदी सरकार रोजगार के नाम पर झूठ बोल रही है। मेक इन इंडिया का वादा करने वाले मेड इन चाइना पर फोकस कर रहे हैँ।

साथ ही राहुल गांधी ने शरद यादव के मंच से विपक्षी एकता की वकालत की। संघ और मोदी सरकार को हराने के लिए राहुल गांधी ने विपक्षी एकता पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि शरद यादव जी से मेरी बात हुई है। हर नेता से मेरी बात हुई है। अगर इनसे लड़ना है तो हम सबको एक साथ मिलकर लड़ना है। अगर हम सब मिलकर लड़ गए तो ये लोग आपको दिखाई नहीं देंगे।