उर्जित पटेल के इस्तीफे पर बोले रघुराम राजन, सभी भारतीयों को चिंतित होना चाहिए

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (10 दिसंबर): इस वक्त एक बेहद चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। RBI के गवर्नर उर्जित पटेल ने इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफे के पीछे उन्होंने निजी कारणों को जिम्मेदार बताया है।आपको जानकारी के लिए बता दें कि केंद्र सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के बीच पिछले काफी समय से विवाद चल रहा था। पटेल के इस्तीफे पर आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने कहा है कि सभी भारतीयों को चिंतित होना चाहिए।

भारत सरकार ने अगस्त 2016 में आरबीआई के डिप्टी गवर्नर उर्जित पटेल को नया गवर्नर घोषित किया था। उन्होंने रघुराम राजन की जगह ली थी।उनका कार्यकाल 3 साल का था। उर्जित पटेल ने इस्तीफे में कहा है, 'व्यक्तिगत कारणों की वजह से मैंने मौजूदा पद तत्काल प्रभाव से छोड़ने का फैसला किया है। 

वर्षों तक रिजर्व बैंक में विभिन्न जिम्मेदारियों के साथ मुझे रिजर्व बैंक में सेवा का मौका मिला, यह मेरे लिए सम्मान की बात है।' गौरतलब है कि उर्जित पटेल का कार्यकाल सितंबर 2019 में खत्म होने वाला था।  

केंद्र सरकार और आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल के बीच पिछले कुछ महीनों से लगातार तनाव की स्थिति बनी हुई थी। दोनों के बीच नीतिगत मुद्दों को लेकर मतभेद की खबरें थी।

RBI के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने कहा था कि RBI की स्वायत्तता पर चोट किसी के हक में नहीं होगी। विरल ने कहा था, 'RBI के काम में दखल देने से बैंक की स्वायत्तता पर प्रभाव पड़ रहा है। इकोनॉमी में सुधार लाने के लिए आरबीआई सरकार से थोड़ा दूरी बनाना चाहती है लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा है। सरकार बैंक के कामों में हस्तक्षेप कर रही है, जो कि ठीक नहीं है।