राफेल: कांग्रेस के खिलाफ के बीजेपी का हल्ला बोल, सुप्रीम कोर्ट से क्लीन चिट के बाद सड़कों पर विरोध प्रदर्शन


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 दिसंबर): सुप्रीम कोर्ट से राफेल पर क्लीनचिट मिलने के बाद बीजेपी विपक्ष खासकर कांग्रेस के खिलाफ आक्रामक हो गई है। बीजेपी ने अब सड़कों पर उतर कर कांग्रेस के खिलाफ हल्लाबोल की तैयारी में है। राफेल डील में क्लीनचिट मिलने के बाद बीजेपी के नेता और कार्यकर्ता देशभर में सड़कों पर उतर कर कांग्रेस को घेरने के लिए प्रदर्शन करेगी।


इससे पहले केंद्र सरकार ने शनिवार को सुप्रीम कोर्ट का रुख कर राफेल करार से जुड़े सुप्रीम कोर्ट के फैसले के उस हिस्से में सुधार की गुहार लगाई जिसमें नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) और लोक लेखा समिति (पीएसी) का जिक्र है। केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि उसके आदेश में जहां सीएजी रिपोर्ट और पीएसी का जिक्र है, वहां उसके नोट की ‘गलत व्याख्या' की गई और ‘नतीजतन, सार्वजनिक तौर पर विवाद पैदा हो गया।उधर राफेल करार के मुद्दे पर कांग्रेस की अगुवाई में विपक्ष पहले ही सरकार के खिलाफ काफी आक्रामक है। पीएसी के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे पहले ही कह चुके हैं कि राफेल विमानों को लेकर उन्हें सीएजी की कोई रिपोर्ट नहीं मिली है। विपक्ष ने मोदी सरकार पर सुप्रीम कोर्ट को गुमराह करने के आरोप भी लगाए हैं। 



इससे पहले शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि करार में विमानों की कीमत का ब्योरा सीएजी से साझा किया जा रहा है और सीएजी ने अपनी रिपोर्ट संसद की पीएसी से साझा की। अपनी अर्जी में केंद्र ने कहा कि फैसले के 25वें पैरा में दो वाक्य उसकी ओर से एक सीलबंद कवर में दिए गए कीमतों के ब्योरे के साथ सौंपे गए एक नोट पर आधारित लग रहे हैं। लेकिन सरकार ने संकेत दिए कि अदालत की ओर से इस्तेमाल किए गए शब्द इसे एक अलग अर्थ दे रहे हैं। केंद्र ने साफ किया कि उसने यह नहीं कहा कि पीएसी ने सीएजी की रिपोर्ट का परीक्षण किया या कोई संपादित हिस्सा संसद के समक्ष रखा गया है।