Blog single photo

राहुल गांधी का पीएम पर बड़ा हमला, बोले- राफेल मामला सिर्फ झलक, अभी कई मुखौटे उतरेंगे

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर शुक्रव्रार को नरेंद्र मोदी सरकार पर फिर निशाना साधा और कहा कि ‘यह मामला तो झलक भर है। आने वाले समय में कई मुखौटे उतरेंगे।’गांधी ने एक खबर शेयर करते हुए ट्वीट में कहा, ‘‘राफेल घोटाला मोदीजी के कारनामों की झलक भर है। सेना को लूटने के लिए उन्होंने चुनिंदा अफसरों, मंत्रियों, उद्योगपतियों का मोगैम्बो जैसा मकड़जाल बनाया है।’’उन्होंने दावा किया, ‘‘सेना को अंदर से खोखला करने वाले इस मकड़जाल के तार मोदीजी और उनके मित्र उद्योगपतियों से जुड़े हैं। अभी कई मुखौटे उतरेंगे।’’

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (23 नवंबर): कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर शुक्रव्रार को नरेंद्र मोदी सरकार पर फिर निशाना साधा और कहा कि ‘यह मामला तो झलक भर है। आने वाले समय में कई मुखौटे उतरेंगे।’गांधी ने एक खबर शेयर करते हुए ट्वीट में कहा, ‘‘राफेल घोटाला मोदीजी के कारनामों की झलक भर है। सेना को लूटने के लिए उन्होंने चुनिंदा अफसरों, मंत्रियों, उद्योगपतियों का मोगैम्बो जैसा मकड़जाल बनाया है।’’उन्होंने दावा किया, ‘‘सेना को अंदर से खोखला करने वाले इस मकड़जाल के तार मोदीजी और उनके मित्र उद्योगपतियों से जुड़े हैं। अभी कई मुखौटे उतरेंगे।’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने जो खबर शेयर की है उसमें राफेल मामले को लेकर रक्षा मंत्रालय में हितों के टकराव का दावा किया गया है। इस खबर को लेकर गांधी ने जो आरोप लगाएं है उस पर फिलहाल सरकार या भाजपा की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

पिछले कई महीनों से कांग्रेस और राहुल गांधी राफेल लड़ाकू विमान सौदे पर सवाल खड़े करते आए हैं। उनका आरोप है कि संप्रग सरकार के समय विमान की तय कीमत के मुकाबले मोदी सरकार ज्यादा कीमत अदा कर रही है। 

उनका आरोप यह भी है कि इस सौदे में ऑफसेट साझेदार के तौर पर हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स को उपेक्षित रखा गया और रिलायंस डिफेंस को फायदा पहुंचाया गया है।सरकार की तरफ से कांग्रेस और राहुल गांधी के इन आरोपों को सिरे से खारिज किया गया है। सरकार और राफेल विनिर्माता कंपनी दसाल्ट का कहना है कि यह सौदा पूरी तरह से नियमों के तहत किया गया है।

Tags :

NEXT STORY
Top