रायबरेली में भिखारी निकला करोड़पति! मिले 1 करोड़ से ज्यादा

नई दिल्ली (21 दिसंबर): यूपी के रायबरेली से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है। यहां पर भीख मांग रहे एक भिखारी के कपड़ों से एक करोड़ छह लाख 92 हजार 731 रुपये के एफडी के कागजात मिले। सड़क पर फटे हाल में रहने वाले बुजुर्ग शख्स को जब स्वामी भास्कर स्वरूप जी महराज की नजर पड़ी और उसे वह अपने आश्रम में ले आए।

स्वामी के सेवकों ने भिखारी को नहलाने-धुलाने के बाद उसके कपड़ों को तलाशी ली तो उसकी जेब से मिले आधार कार्ड के सहारे संपर्क करने पर पता चला कि वह बुजुर्ग तमिलनाडु का करोड़पति व्यापारी है। उससे आधार कार्ड सहित एक करोड़ छह लाख 92 हजार 731 रुपये के एफडी के कागजात भी बरामद हुए। उसके पास से एक छह इंच लंबी तिजोरी की चाबी भी बरामद हुई। स्वामी जी के द्वारा कागज से मिले पते पर सूचना दी गई तो उसकी पुत्री रालपुर पहुंची और अपने पिता को साथ ले गई।

स्वामी ने बताया कि उसके पास से मिले आधार कार्ड से उसकी पहचान मुथैया नादर पुत्र सोलोमन पता-240 बी नार्थ थेरू, तिरूनेलवेली तमिलनाडु, 627152 के रूप में हुई। कागजातों मे उसके घर के फोन नंबर भी थे। फोन पर जब संपर्क किया गया तो उसके घरवालों ने बताया कि वे लोग मुथैया नादर को जगह-जगह ढूंढ रहे हैं।