बैन के बाद पहली बार फ्लाइट के जरिए कतर पहुंचा 165 गायों का झुंड

नई दिल्ली (13 जुलाई): अरब और खाड़ी देशों से बहिष्कार का सामना कर रहे कतर का एक बिजनेस हाल ही में 4000 गायों की खरीदारी को लेकर चर्चा में आ गया था। उसने अपने देश में दूध की आपूर्ति के लिए बुडापेस्ट से 4000 गाय खरीदी थी। अब खबर है कि इन गायों का पहला झुंड हवाई मार्ग के जरिए कतर तक पहुंचा चुका है।


 गायों के इस पहले झुंड को दोहा से 80 किलोमीटर दूर एक खेत में रखा गया है। इससे पहले कहा जा रहा था कि 4000 गायों को फ्लाइट के जरिए अगस्त माह तक कतर में लाया जाएगा। बलाद्ना लाइवस्टॉक प्रोडक्शन के एक वरिष्ठ प्रबंधक जॉन डोरे ने बताया, “हम 165 गाय लेकर आए हैं। सभी गाय बेहद प्रजाति की होल्स्टीन गाय है, खासकर डेयरी के लिए। इनमें से से 35 गाय अभी दूध दे रही है जबकि बाकी 130 दो से तीन हफ्तों के बाद दूध देने लगेंगी।


आपको बता दें कि पिछले महीने सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन तथा मिस्त्र ने कतर के साथ अपने सीमा द्वार और खाद्य उत्पादों का आयात बंद कर दिया था। इन देशों ने अमेरिकी राष्ट्रपति की सऊदी अरब यात्रा के बाद कतर के साथ अपने राजनयिक और यात्रिक संबंधों को खत्म करने का फैसला किया था। खाड़ी देशों का आरोप है कि कतर उग्रवादी समूह, जैसे कि फिलिस्तीनी आतंकवादी समूह हमास और शिया क्षेत्रीय शक्ति ईरान को मदद कर रहा है।

 

कतर की जनसंख्या 2.7 मिलियन है जो खाद्य पदार्थों के लिए पूरी तरह से खाड़ी देशों पर निर्भर है।  कतर का उद्देश्य देश में मौजूद मवेशियों की संख्या में पांच गुना बढ़ोतरी करना है, क्योंकि यह चालू संकट के कारण आयात पर निर्भर रहना पड़ता है।