भारतीय प्रवासियों के लिए भी अच्छी खबर, सऊदी से सशर्त बातचीत के लिए राजी कतर

नई दिल्ली ( 22 जुलाई ): कतर में रह रहे भारतीय प्रवासियों के लिए अच्छी खबर है। कतर सऊदी अरब से शर्तों पर बातचीत के लिए राजी हो गया है। गौरतलब है कि 50 लाख से भी ज्यादा कामगार खाड़ी देशों में हैं। कतर के अमीर तमीम बिन हमद अल थानी ने कहा है कि वह खाड़ी के चार पड़ोसी देशों के साथ विवादों को बातचीत से हल करने के लिए तैयार है, लेकिन उन्हें कतर के संप्रभुता का भी सम्मान करना चाहिए। उन्होंने कहा, "संकट का कोई भी निपटारा दो सिद्धांतों पर आधारित होना चाहिए।

शेख तमीम बिन हमद अल थानी ने एक टेलीविजन पर दिये अपने भाषण में कहा कि कुवैत की मध्यस्थता और प्रयासों के लिए उन्होंने अमेरिका, तुर्की और जर्मनी सहित अन्य देशों के समर्थन को भी अहम माना और इस पर गहन विचार विमर्श किया है। कतर के अमीर ने यरूशलम में अल-अक्सा मस्जिद को बंद करने की भी आलोचना की और फिलीस्तीनी लोगों के साथ एकजुटता व्यक्त की।

गौरतलब है कि खाड़ी के चार देशों सऊदी अरब, मिस्र, बहरीन और संयुक्त अरब अमीरात ने कतर पर आतंकी संगठनों को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए उससे अपने संबंध तोड़ लिए थे।