दरिंदगी : पपी को तारकोल के ड्रम में फेंका, 24 घंटे तक रोता-चिल्लाता रहा, फिर...

नई दिल्ली (28 मई): जानवरों के प्रति बेरहमी का एक बेहद खतरनाक उदाहरण सामने आया है। जब एक भटके हुए कुत्ते को किसी व्यक्ति ने टार के ड्रम में फेंक दिया। करीब 24 घंटे तक यह कुत्ता इसी ड्रम में चिपका रहा, जिसे एनिमल रेस्क्यू ऑर्गेनाइजेशन की टीम ने आकर बचाया।

बचावकर्मियों ने एक नोट में लिखा, "निर्दयता की भी कोई सीमा नहीं है... इस छोटे पपी को टार के ड्रम में फेक दिया गया, जो 24 घंटे तक असहाय स्थिति में चिपका रहा और चिल्लाता रहा।" यहां तक कि कॉम्प्लेक्स के निवासियों ने इस ड्रम को रोड पर गिराकर लिटा दिया। जिससे कुत्ते की चीखें और तेज सुनी जा सकती थीं।

हालांकि, कुत्ते को टार से पूरी तरह निकाल लिया गया है। उसके शरीर के ऊपर कई लीटर केरोसीन डालने के बाद टार को हटाया गया। इसके बाद डॉक्टरी परामर्श भी लिया गया है।

नोट में लिखा गया है, "इस मासूम के पूरे शरीर को साफ करने के लिए अभी भी काफी काम करना है। इसके अलावा इंसानों से डर को भी खत्म करना होगा। क्योंकि उसके लिए यह काफी डरावना अनुभव रहा है। हम उसकी हालत सुधारने के लिए हर कदम उठाएंगे।"