अमरिंदर पर बयान से सिद्धू पर इस्तीफे का दवाब, पंजाब कैबिनेट की बैठक आज


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (3 दिसंबर): 'कैप्टन' विवाद में नवजोत सिंह सिद्धू पर दवाब बढ़ता जा रहा है। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के खिलाफ टिप्पणी को लेकर पंजाब के कम से कम 10 मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से मंत्रिमंडल से इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। इन सबके बीच आज कैप्टन अमरिंदर सिंह के कैबिनेट की आज अहम बैठक होने जा रही है। बताया जा रहा है कि इस बैठक में भी नवजोत सिंह सिद्धू का मसला उठ सकता है और उन पर इस्तीफे का दवाब बनाया जा सकता है।

पंजाब के वरिष्ठ मंत्री टी आर बाजवा ने नवजोत सिंह सिद्धू से मंत्रिमंडल से इस्तीफे की मांग करते हुए हुए कहा कि पंजाब के कप्तान अमरिंदर सिंह ही हैं। बाजवा ने सिद्धू के बयान को लेकर कहा कि अगर वह कैप्टन साहब को कप्तान की तरह नहीं देखते हैं तो फिर उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। यह साफ है कि राहुल जी हमारे भारत के कप्तान हैं। लेकिन पंजाब में कप्तान अमरिंदर सिंह ही हैं। साथ उन्होंने आगे कहा कि सिद्धू साहब का बहुत लंबा करियर है। ऐसे में उन्हें शब्दों का चयन सोच विचार कर करना चाहिए। उधर, सिद्धू ने हैदराबाद में की अपनी उस टिप्पणी को वापस ले लिया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन्होंने (सिद्धू ने) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के कहने पर करतारपुर गलियारे के आधारशिला समारोह में हिस्सा लिया था।

सिद्धू ने ट्वीट किया, 'राहुल गांधी ने मुझे जाने को नहीं कहा था, मैं इमरान खान के निजी आमंत्रण पर वहां गया था।' शुक्रवार को सिद्धू ने कहा था कि गांधी उनके 'कैप्टन हैं। इसे पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर एक तंज की तौर पर देखा जा रहा था।' इससे पहले पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने हैदराबाद में मीडिया से बात करते हुए कहा था कि मेरे कप्तान राहुल गांधी मेरे कैप्टन हैं, उन्होंने ही करतारपुर गलियारा के शिलान्यास के लिए मुझे पाकिस्तान भेजा था।