पंजाब: कांग्रेस के विधायकों ने स्पीकर के विरोध में विधानसभा में गुजारी रात

नई दिल्ली(13 सितंबर):कांग्रेस के अविश्वास प्रस्ताव पर स्पीकर के बहस नहीं करवाने के विरोध में विधायकों ने पूरी रात पंजाब विधानसभा में गुजार दी। इस दौरान बिजली सप्लाई भी बंद कर दी गई लेकिन विधायक डटे रहे। 

- कांग्रेस के सभी 30 विधायकों ने विरोध में मॉक असेंबली की। बाद में अंधेरे में विधानसभा के अंदर वेल में सोये रहे। पंजाब विधानसभा में ऐसा पहली बार हुआ। इससे पहले कर्नाटक और ओडिशा विधानसभा में भी ऐसे मामले हो चुके हैं।

- विधानसभा में रहने वाले विधायकों में चार महिलाएं और 26 पुरुष थे। महिला विधायकों के नाम हरचंद कौर, अरुणा चौधरी, चरणजीत कौर बाजवा और करण बराड़ हैं।

- सोमवार को सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने वाली कांग्रेस नशा, बेरोजगारी, किसान खुदकुशी सहित 11 मुद्दों पर बहस नहीं कर पाई।

- पहले कांग्रेस ने बहस के लिए समय बढ़ाने की मांग की। फिर छोटी- छोटी बातों पर समय खराब कर खुद ही सत्ता पक्ष के चक्रव्यू मेें फंसती चली गई।

- इसे अकाली दल ने जबरदस्त तरीके से कैश किया। इसी बीच कांग्रेसियों ने अकाली नेता झूंडा से बहस के बाद नारेबाजी की और मार्श्लस से धक्का मुक्की भी।

- दिलचस्प बात ये थी कि बाद में कांग्रेस पार्टी मॉक असेंबली चलाती रही और सत्ताधारी दल की गैर हाजिरी में उनके कामों की आलोचना करती रही। 

- उधर, सीएम बादल ने कहा, विकास, लॉ एंड आर्डर और अन्य मुद्दों पर बात करने की बजाए कांग्रेस ने अविश्वास प्रस्ताव में शोरशराबा करके लोकतंत्र का मजाक उड़ाया।