Blog single photo

मैंने सिद्धू को पाकिस्तान जाने से मना किया था: सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब के कैबिनेट मिनिस्टर नवजोत सिंह सिधु पाकिस्तान जाने से पहले अपने चीफ मिनिस्टर के ना कहने के बावजूद पाकिस्तान की यात्रा पर चले गए जिसका खुलासा भी पंजाब के चीफ मिनिस्टर कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने न्यूज़ 24 के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में किया। उन्होंने कहा कि दो पहले नवजोत सिंह सिधु का उनको फोन आया था तो मैने उनको कहा कि पाकिस्तान जाने से पहले आप जरा दोबारा सोचिए, मैने यह स्टैंड लिया है कि मैं नही जाऊंगा आप जरा सोच लो क्योंकि पाकिस्तान हमारे लोगों को हथियार भेज रहा है और मरवा रहा है जब तक यह बंद नही होगा मैं नही जाऊंगा, इस पर सिद्धू मुझे कहता कि मैंने तो इनविटेशन मान लिया है तो मैने कहा कि आप बोल दो की सीएम नाराज है और मैं अपना मन बदल रहा हुं तो सिद्धू कहता कि मैं आपको शाम को फोन करूँगा लेकिन अभी तक फ़ोन नही आया।

विशाल एंग्रीस, पंजाब (27 नवंबर): पंजाब के कैबिनेट मिनिस्टर नवजोत सिंह सिधु पाकिस्तान जाने से पहले अपने चीफ मिनिस्टर के ना कहने के बावजूद पाकिस्तान की यात्रा पर चले गए जिसका खुलासा भी पंजाब के चीफ मिनिस्टर कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने न्यूज़ 24 के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में किया। उन्होंने कहा कि एक दिन पहले नवजोत सिंह सिद्धू का उनको फोन आया था तो मैने उनको कहा कि पाकिस्तान जाने से पहले आप जरा दोबारा सोचिए, मैने यह स्टैंड लिया है कि मैं नही जाऊंगा आप जरा सोच लो क्योंकि पाकिस्तान हमारे लोगों को हथियार भेज रहा है और मरवा रहा है जब तक यह बंद नही होगा मैं नही जाऊंगा, इस पर सिद्धू मुझे कहता कि मैंने तो इनविटेशन मान लिया है, तो मैने कहा कि आप बोल दो की सीएम नाराज है और मैं अपना मन बदल रहा हुं तो सिद्धू कहता कि मैं आपको शाम को फोन करूँगा लेकिन अभी तक फ़ोन नही आया।

जब कैप्टन से पूछा गया कि क्या सिद्धू ने पाकिस्तान जाकर मुख्यमंत्री की अवहेलना नहीं की। इस पर मुख्यमंत्री ने साफ किया कि उन्होंने सिद्धू को सिर्फ सलाह दी थी आदेश नहीं। क्योंकि ये सरकारी यात्रा नहीं निजी यात्रा थी।  कैप्टन ने ये भी कहा कि सिद्धू जाएं या नहीं जाएं इससे ज़मीनी स्थिति पर कोई फ़र्क नहीं पड़ता।

ये पूछे जाने पर कि एक तरफ आप पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की पंजाब समेत भारत में आतंकवाद को फैलाने की हरकतों को लेकर आशंकित हैं और दूसरी तरफ आप ही के सरकार के मंत्री (सिद्धू) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान को शांति का दूत और फरिश्ता बताते हैं, क्या इससे पंजाब सरकार के स्टैंड में दोहरापन होने का संदेश नहीं जा रहा? इस सवाल के जवाब में कैप्टन ने कहा, ‘जो मेरा स्टैंड है वैसा ही पंजाब की अधिकतर जनता सोचती है,  जहां तक करतारपुर साहेब कॉरिडोर का सवाल है तो हम तहे दिल से उसका स्वागत करते हैं। हम वर्षों से इसकी मांग करते रहे हैं। जब हमारी पहले पंजाब में सरकार थी तो मैंने तब भी परवेज मुशर्रफ के सामने ये मुद्दा उठाया था। कॉरिडोर के लिए मैं भारत और पाकिस्तान, दोनों के प्रधानमंत्रियों को बधाई देता हूं. कॉरिडोर का स्वागत भारत समेत पूरे विश्व का सिख समुदाय करता है।

लगे हाथ कैप्टन अमरिंदर ने पाकिस्तानी सेना की नापाक हरकतों का भी हवाला दिया. मुख्यमंत्री ने कहा ‘पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा से मेरा कहना है कि वो जो हमारे पंजाब में कर रहे हैं, वो किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं। कैप्टन के मुताबिक पिछले 18-19 महीने में पंजाब में हमने आतंकवाद के 19 मॉड्यूल्स ध्वस्त किए हैं। 81 आतंकवादियों को पकड़ा है. 77 हथियार बरामद किए हैं, साथ ही ग्रेनेड्स, आईडी और विस्फोटक सामग्री बरामद की है।’

Tags :

NEXT STORY
Top