महिला इंजीनियर के हत्या के आरोपी वाचमैन ने किया चौंकाने वाला खुलासा, इसलिए की हत्या

नई दिल्ली ( 31 जनवरी ): पुणे पुलिस ने इंफोसिस की महिला इंजीनियर की हत्या के मामले में एक वॉचमैन को गिरफ्तार किया है। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने सनसनीखेज खुलासे किए हैं।

आरोपी वॉचमैन भाबेन साकिया ने पुलिस को बताया है उसने पुलिस को बताया है कि, मृतक रासिला राजू ने उसके खिलाफ शिकायत करने की बात कही थी। इसी वजह से उसने सॉफ्टवेयर इंजीनियर रसिका राजू की कम्प्यूटर केबल से गला घोंटकर हत्या की थी और फिर वह खुद भी सुसाइड करने वाला था, लेकिन बाद में उसका मन बदल गया और उसने आत्महत्या नहीं की। हालांकि पुलिस ने उसके इस बयान को सहानुभूति पाने वाला बताया है।

पुलिस ने बताया है कि आरोपी के बयानों से साफ पता चल रहा है कि उसने पूरी प्लानिंग के साथ हत्या किया था। सॉफ्टवेयर इंजीनियर रासिका का शव सोमवार को हिन्जेवाड आईटी पार्क में उसके ऑफिस से मिला जिसके बाद पुलिस ने संदेह के आधार पर आरोपी गार्ड को गिरफ्तार किया था।

पुलिस ने बताया कि पूछताछ में आरोपी वॉचमैन साकिया ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। साकिया ने पुलिस को बताया है कि रसिका की हत्या करने के बाद वह बिल्डिंग की छत पर चढ़ गया और वहां से कूदकर जान देना चाहता था, लेकिन नीचे देखा तो तो सिक्यूरिटी अफसर टहल रहे थे इसके बाद उसने जान देने का इरादा बदल लिया।

आरोपी ने पुलिस को बाताया कि घटना को अंजाम देने के बाद उसने अपनी मां को फोन किया और घटना के बारे में बताया जिसके बाद उसकी मां ने उसे सलाह दी कि वह पुलिस को सरेंडर कर दे। लेकिन पुलिस का कहना है वह सहानुभूति के लिए ऐसा कर रहा है, क्योंकि उसके चेहरे पर चिंता साफतौर पर नजर आ रही है।

पुलिस ने बताया कि रसिका की हत्या करने के बाद वह असम भाग रहा था लेकिन उसे रेलवे स्टेशन से ही गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस को और पूछताछ में पता चला है आरोपी रसिका को घूरता था। एक दिन रसिका ने उसकी इस हरकत पर एडमिन शिकायत करने की धमकी दी तो उसने माफी मांग ली और किसी से न बताने की अपील की थी। उसके डर था कहीं उसकी हरकत से उसे नौकरी से न निकाल दिया जाए।

लेकिन जब रसिका ने बातों पर ध्यान देना बंद कर दिया तो उसने उसकी हत्या करने का फैसला लिया।