CRPF कैंप पर हमले से पहले 16 साल के आतंकी ने बनाया था वीडियो

नई दिल्ली (1 जनवरी): जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के लेथपोरा में CRPF कैंप पर हमला करने वाले तीनों आतंकियों को मार गिरा है और यहां मुठभेड़ के बाद सर्च ऑपरेशन भी खत्म हो गया है। आतंकियों के इस हमले पांच जवान शहीद हो गए थे।

हलावर आतंकियों में एक पुलिसकर्मी का 16 साल का बेटा भी था, जो कुछ महीने पहले ही जैश-ए-मोहम्मद में शामिल हुआ था। कैंप पर हमले से पहले उसने एक वीडियो मैसेज रिकॉर्ड किया। इस वीडियो में वह CRPF के शिविर पर हमले की योजना बना रहा है। ये वीडियो कश्‍मीर घाटी में व्‍हाट्स एप और सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। आठ मिनट के इस वीडियो में ये आतंकी युवाओं से अपील कर रहा है कि वह जैश-ए-मोहम्मद में शामिल हो। आतंकी कह रहा है कि अल्‍लाह ने चाहा, जब यह सन्देश आपके पास पहुंचेगा मैं पहले ही स्वर्ग में अपने प्रभु का अतिथि हो चुका होंगा।

अधिकारियों के मुताबिक ये पहली बार है कि जब किसी फिदायीन या आत्मघाती हमलावर ने हमले से पहले संदेश रिकॉर्ड किया है। सुरक्षाबल इस वीडियो का विश्‍लेषण कर रहे हैं। एक सीनि‍यर अधिकारी ने बताया कि हां, यह गंभीर चिंता का कारण है। ऐसे समय में जब हम स्थानीय युवाओं को मुख्यधारा में वापस लाने की कोशिश कर रहे हैं और कई लोग पहले ही आतंकवाद को छोड़ चुके हैं और अपने परिवारों के पास वापस लौट रहे हैं। ऐसे में यह निश्चित रूप से अच्छा संकेत नहीं है।