Blog single photo

पाकिस्तान के साथ विश्व कप में भारत खेलेगा या नहीं, फैसला आज

क्रिकेट विश्वकप 2019 में भारत पाकिस्तान के साथ खेलेगा या नहीं इसपर आज फैसला हो सकता है। आज सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति इस मुद्दे पर बैठक करने जा रही है

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (22 फरवरी): क्रिकेट विश्वकप 2019 में भारत पाकिस्तान के साथ खेलेगा या नहीं इसपर आज फैसला हो सकता है। आज सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति इस मुद्दे पर बैठक करने जा रही है। आपको बता दें कि इंग्लैंड में आयोजित होने वाले वर्ल्ड कप 2019 में 16 जून को मैनचेस्टर में भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला होना है। आपको बता दें कि पुलवामा हमले के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड पर पाकिस्तान को पूरी तरह से बहिष्कार करने का दवाब है। बीसीसीआई पर दवाब है कि टूर्नमेंट से पाकिस्तान को बहिष्कृत करने के लिए आईसीसी पर दबाव डाले। बताया जा रहा है कि इस मुद्दे पर बीसीसीआई का क्या रूख होना चाहिए बोर्ड की प्रशासकों की समिति इस पर विचार करेगी और देखेगी कि क्या मुद्दे पर क्या कदम उठाए जा सकते हैं। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक बैठक में आगे उठाए जाने वाले कदम पर चर्चा होगी और इस सिललिसे में खेल मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और गृह मंत्रालय से सलाह मांगी जाएगी। इसके बाद बीसीसीआई इस मुद्दे पर सामूहिक और जवाबदेही वाला फैसला लेगा कि पाकिस्तान के खिलाफ क्रिकेट के संबंध में क्या कदम उठाए जा सकते हैं।

सूत्रों के मुताबिक, बोर्ड ने इंटरनैशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) को पत्र लिखकर लिखकर इस साल इंग्लैंड और वेल्स में होने जा रहे वर्ल्ड कप से पाकिस्तानी टीम को बाहर का दरवाजा दिखाए जाने की मांग रखी है। खबरों के मुताबिक बीसीसीआई के सीईओ राहुल जोहरी ने आईसीसी को ईमेल भेजकर पाकिस्तान को वर्ल्ड कप से बाहर किए जाने की अपील की है, क्योंकि यह पड़ोसी देश लगातार अपनी जमीन पर आतंकियों को फलने- फूलने का मौका दे रहा है और भारत के खिलाफ आतंकवाद को शह दे रहा है। बोर्ड ने आईसीसी से साफतौर पर कहा है कि देश के अंदर पाकिस्तान के खिलाफ न खेलने का मूड है और भारत आतंकवाद के मसले पर कोई समझौता नहीं करेगा। इससे पहले केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि जो लोग आगामी वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के बहिष्कार की मांग कर रहे हैं, वह कुछ हद तक औचित्यपूर्ण है क्योंकि पुलवामा आतंकी हमले के बाद दोनों देशों के बीच चीजें सामान्य नहीं हैं। साथ ही हरभजन सिंह समेत कई क्रिकेटर्स ने भी पाकिस्तान से ना खेलने की वकालत की है।

बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद बीसीसीआई ने अपने मुंबई स्थित हेडक्वॉर्टर से पाकिस्तान क्रिकेट से जुड़ी तस्वीरों और स्मृति चिह्नों को हटा दिया है। क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया समेत कई राज्य क्रिकेट संघों द्वारा अपने परिसरों से पाकिस्तानी क्रिकेटर्स से जुड़ी तस्वीरों को हटाए जाने के बाद बीसीसीआई ने भी यह कदम उठाया है।

Tags :

NEXT STORY
Top