पाकिस्तान से क्रिकेट खेलने को लेकर कांग्रेस में नहीं एक राय

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (22 फरवरी): पुलवामा हमले के बाद देशभर में पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग जोरों पर है। पाकिस्तान से हर तरह के संबध को खत्म करने की मांग हो रही है। इसी कड़ी में देशभर में मांग उठ रही है की इंग्लैंड आयोजित होने वाले क्रिकेट विश्व कप 2019 में भारत को पाकिस्तान के खिलाफ मैच नहीं खेलना चाहिए। भारत पाकिस्ता के खिलाफ विश्व कप में मैच खेले या नहीं इसके समर्थन और विरोध में सुर तेज होने लगे हैं। इसी कड़ी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर का कहना है कि विश्व कप में भारत को पाकिस्तान के खिलाफ मैच खेलने चाहिए।

शशि थरूर का कहना है कि 1999 में कारगिल युद्ध के दौरान भी भारत ने विश्व कप में पाकिस्तान के साथ क्रिकेट मैच खेला और जीता भी था। इस बार पाकिस्तान से मैच न खेलने से सिर्फ दो प्वॉइंट का नुकसान नहीं होगा, बल्कि यह सरेंडर करने से भी बुरा और बिना लड़े हार जाने जैसे होगा। हालांकि शशि थरूर के इस बयान से कांग्रेस पार्टी इक्तफाक नहीं रखती है। कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी का कहना है कि जब तक पाकिस्तान में बैठे आतंकी और उनके आका भारत में आतंकवाद को बढ़ावा देते रहें, तब तक क्रिकेट नहीं होना चाहिए।

आपको बता दें कि इंग्लैंड में आयोजित होने वाल क्रिकेट विश्व कप में 16 जून को भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला होना है। लेकिन पुलवामा की घटना के बाद पाकिस्तान के साथ क्रिकेट न खेलने की मांग लगातार उठ रही है। इन सबके केंद्र सरकार ने बीसीसीआई को पाकिस्‍तान के खिलाफ वर्ल्‍डकप-2019 का मैच नहीं खेलने के निर्देश दिए हैं। सरकार ने बीसीसीआई से कहा है कि भारतीय टीम को वर्ल्‍डकप-2019 के अंतर्गत पाकिस्‍तान के खिलाफ मैच नहीं खेलना चाहिए।