PAK में 200 रुपये पहुंचे टमाटर के दाम, बाघा बॉर्डर पर सड़ रहा है उसका सामान

Photo: Google 


न्यूज 24 ब्यूरो, संजीव त्रिवेदी, नई दिल्ली (22 फरवरी):
पुलवामा हमले के बाद भारत की घेरेबंदी ने पाकिस्तान में हड़कंप मचा दिया है। भारत ने दुश्मन देश को सब्जियां और फल भेजने से मना कर दिया है तो भारतीय व्यापारियो ने पाकिस्तान का कपड़ा, सीमेंट और छुआरे लौटा दिए हैं। हर रोज करोड़ों का नुकसान हो रहा है, जिसके बाद पाकिस्तान की आर्थिक तौर पर कमर टूट गई है। भारत की तरफ से की गई आर्थिक सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान का दम निकलने लगा है।

पुलवामा अटैक के बाद भारत ने पाकिस्तान को जोरदार झटका देते हुए के मोस्ट फेवरड नेशन का दर्ज़ा छीन लिया। इसके अलावा पाकिस्तान से आने वाले सामानों पर 200 फीसदी का आयात शुल्क भी लगा दिया है, जिसके बाद करोड़ों का माल पाकिस्तान के गोदाम, ट्रक और बाघा बोर्डर पर पड़े-पड़े सड़ रहा है। हमारे जवानों की शहादत के बाद भारत ने पाकिस्तान को टमाटर भी भेजने बंद कर दिए हैं, जिसके बाद पाकिस्तान में टमाटर के दाम 200 रु किलो तक पहुंच गया है। आलम ये है कि पाकिस्तान के लोगों की थालियों से टमाटर गायब हो गया है।

अंतर्राष्ट्रीय मंच पर तो पाकिस्तान की किरकिरी हो ही रही है। पाकिस्तान में उनके व्यापार बंद होने का भी असर दिखने लगा है। चौतरफा घिरे पाकिस्तान के भारत के बॉर्डर पर करोड़ों रु  बर्बाद हो रहे हैं। चमड़ा, सीमेंट, कपड़ा सब व्यापार ठप हो गया है तो पाकिस्तानी थालियों से टमाटर और मिर्ची गायब होने लगी है। जाहिर है भारत की आर्थिक नाके पर की गई सर्जिकल स्ट्राइक पाकिस्तान के लिए टेंशन बन गई है।

जंग से पहले ही पाकिस्तान ने हार मान ली है। दरअसल इसकी वजह ये है कि पाकिस्तान को हर मोर्चे पर शिकस्त का सामना करना पड़ रहा है। आर्थिक मोर्चे पर तो पाकिस्तान की कमर टूट ही रही है, अब उसके प्यासा मरने की नौबत भी आ गई है। पाकिस्तान जान गया है कि देर सबेर भारत सिंधु समझौता रद्द कर देगा और उसकी नल बंद हो जाएंगी। ऐसे में पाकिस्तान की सरकार में तो हड़कंप मचा ही है, पाकिस्तान का मीडिया भी चीत्कार रहा है।

भारत के सख्त कदम से पाकिस्तान घुटनों पर आ गया है। पाकिस्तान की सरकार के साथ-साथ वहां के मीडिया में भी घबराहट साफ-साफ दिखाई दे रही है। पाकिस्तान के न्यूज़ चैनल में आतंकी मसूद अजहर और हाफिज सईद के खिलाफ आवाज उठ रही है। कहा जा रहा है कि सरकार इन आतंकियों के लिए पूरे देश को खतरे में डाल रही है।