Blog single photo

नहीं बाज आ रहा है पाकिस्तान, LoC पर शुरु की अंधाधुंध फायरिंग, एक जवान घायल

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद भी पाकिस्तान बाज नहीं आ रहा है। अब खबर आ रही है कि पाकिस्तान ने एलओसी में राजौरी सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन

Photo: Google 

न्यूज 24 ब्यूरो, आसिफ सुहाफ, श्रीनगर (16 फरवरी): जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद भी पाकिस्तान बाज नहीं आ रहा है। अब खबर आ रही है कि पाकिस्तान ने एलओसी में राजौरी सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन किया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पाकिस्तान कल से ही इस तरह की हरकत को अंजाम देने में लगा हुआ है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, राजौरी में पाकिस्तान ने अचानक से फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें एक भारतीय जवान गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल जवान को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है और सेना ने भी अपनी तरफ से पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देना शुरू कर दिया है।

डरा पाकिस्तान, माना मोदी करेगा कार्रवाई

पाकिस्तान के रक्षा विशेषज्ञ जफर हिलानी ने कहा, ''मोदी इस हमले के बाद चुप नहीं बैठेगा और मैं पाकिस्तान की सरकार को साफ करना चाहता हूं कि हमें तैयार रहना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि इसके बाद बिजनेस प्लान खत्म होगा, ट्रैवल खत्म होगा। एयरपोर्ट बंद हो सकते हैं और फोर्स पर अटैक हो सकता है, मोदी कुछ भी कर सकता है।'' बताया जा रहा है कि पाकिस्तान ने इसी डर के बाद अपने एयर डिफेंस सिस्टम को भी एक्टिव कर दिया है और एलओसी से सटी हुई चौकियों पर भी हलचल देखी जा रही है।

पाक मीडिया ने माना हमले में उसका हाथ

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान में हड़कंप मचा हुआ है। पाकिस्तान को ये डर सता रहा है कि भारत अब कोई बड़ा एक्शन ले सकता है। पाकिस्तानी मीडिया में भी यही चर्चा है। इसी बीच पाकिस्तान के एक न्यूज़ चैनल ये माना है कि पुलवामा अटैक के पीछे पाकिस्तानी सेना का हाथ है। पाकिस्तानी चैनल का दावा है कि पुलवामा हमले को अंजाम देने वाले आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के रिश्ते पाकिस्तानी सेना के साथ हैं। पाकिस्तान के कई मीडिया संस्थानों ने इस बात को स्वीकार किया है कि जैश-ए-मोहम्मद सरकार और सेना की सरपरस्ती में है और उसी ने पुलवामा में कायराना हमला किया है।

आपको बता दें कि गुरुवार को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर जा रहे सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकियों ने कार में बम रखकर एक फिदायीन हमला किया, जिसमें 40 से ज्यादा जवान शहीद हो गए। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है, जिसका सरगना मौलाना मसूद अजहर है।

Tags :

NEXT STORY
Top