अब भूखा मरेगा पाकिस्तान, भारत ने लगाया 200 फीसदी सीमा शुल्क


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (17 फरवरी): पाकिस्तान से भारत ने पुलवामा हमले का एक-एक कर हिसाब लेगा। भारत ना सिर्फ पाकिस्तान को सरहद पर सबक सिखाने की रणनीति बनाई है बल्कि उसे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी बेपर्दा करने की कोशिशें तेज कर दी है। इतना ही नहीं भारत पाकिस्तान को आर्थिक और मानसिक चोट देने की रणनीति पर काम कर रहा है। इसी कड़ी में भारत एक पैसे-पैसे के लिए मोहताज पाकिस्तान की आर्थिक रीढ़ तोड़ने की तैयारी में है। भारत ने जहां पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया है वहीं अब उसपर दूसरा आर्थिक सर्जिकल स्ट्राइक भी कर दिया है। भारत ने पाकिस्तान से निर्यात किए जाने वाले सभी सामानों पर बेसिक कस्टम ड्यूटी को 200 फीसदी तक बढ़ा दिया है। केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने खुद इसका ऐलान किया।

सीमा शुल्क में बढ़ोतरी से पाकिस्तान से भारत को किये जाने वाले निर्यात पर काफी असर पड़ेगा। भारत ने पाकिस्तान से 2017-18 में 48.8 करोड़ डॉलर का आयात किया था, जबकि 1.92 अरब डॉलर का निर्यात किया था। इससे पहले 2016-17 में दोनों देशों के बीच  2.27 अरब डॉलर का व्यापार हुआ था। भारत, पाकिस्‍तान को चीनी, चाय, ऑयल केक, पेट्रोलियम ऑयल, कॉटन, टायर, रबड़ समेत 14 वस्‍तुओं का प्रमुख रूप से निर्यात करता है। वहीं, भारत, पाकिस्‍तान से अमरूद, आम, अनानास, फ्रेबिक कॉटन, साइक्लिक हाइड्रोकॉर्बन, पेट्रोलियम गैस, पोर्टलैंड सीमेंट, कॉपर वेस्‍ट और स्‍क्रैप, कॉटन यॉर्न जैसे 19 प्रमुख उत्‍पादों का आयात करता है।



गौरतलब है कि पुलवामा में आतंकी हमले के बाद सुरक्षा मामलों की केंद्रीय कैबिनेट ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया गया था। पाकिस्तान को यह दर्जा साल 1996 में दिया गया था। इसके तहत पाकिस्तान को भारत के साथ ट्रेड करने में जो छूट मिलती है, वह बंद हो गई। आपको बता दें कि पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर हुए हमले में 40 जवान मौके पर ही शहीद हो गए थे। इसके बाद से ही देशभर में पाकिस्तान की इस करतूत को लेकर जमकर नाराजगी है।