पुलवामा हमला: 100 घंटे में मोदी सरकार ने पाकिस्तान को दिए ये 4 बड़े झटके

Photo: Google 


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (18 फरवरी): 
पुलवामा हमले को करीब 96 घंटे बीत गए हैं। इस दौरान सरकार ने पाकिस्तान को बेनकाब करने और आतंक पर नकेल कसने के लिए एक के बाद एक चार बड़े कदम उठाकर दिखा दिया कि अब वह पीछे हटने वाली नहीं है। हालांकि देश में अभी भी जवानों की शहादत को लेकर गुस्से का माहौल है और हर कोई कह रहा है कि पाकिस्तान को कड़ा सबक सिखाया जाना चाहिए।

सरकार ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद कैबिनेट की सुरक्षा मामलों की समिति की, जिसमें पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस लेने का फैसला हुआ। इसके साथ ही सरकार ने सभी अहम देशों के राजदूतों को पाक की नापाक हरकतों के बारे में बताया ताकि उसे बेनकाब किया जा सके। सरकार ने दुनिया भर में पाक को अलग-थलग करने के लिए विदेश मंत्रालय जरूरी कदम उठा रहा है। पाकिस्तान को व्यापारिक मोर्चे पर कमजोर करने के लिए सरकार ने वहां से सामानों के आयात पर 200 फीसदी का शुल्क लगा दिया और आतंकवादियों के प्रति नरम रुख रखने वाले हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा और सारी सरकारी सुविधाएं वापस ले ली गईं।

पीएम ने भरोसा दिलाया है कि आतंकी हमले के गुनहगारों को नहीं बख्शा जाएगा और सुरक्षा बलों को खुली छूट दे दी ही। सरकार के इस फैसले का असर भी दिख रहा है और सुरक्षा बलों ने पुलवामा आतंकी हमले का मास्टरमाइंड कामरान गाजी को ढेर कर दिया है। कामरान गाजी जैश का कमांडर था और पाकिस्तान का रहने वाला है। सुरक्षा बलों से मुठभेड़ में एक और आतंकी हिलाल भी ढेर हो गया है। इसके बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक बयान देते हुए कहा है कि सुरक्षा बलों का मनोबल ऊंचा है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा बल आतंकियों का सफाया करने में कामयाब होंगे।

कौन था आतंकी कामरान...

- पाकिस्तान का रहने वाला था आतंकी कामरान

- कामरान पुलवामा अटैक में शामिल था

- हमला करने वाले आतंकी आदिल अहमद डार को ट्रेनिंग दी

- आतंकी संगठन जैश का सक्रिय सदस्य

- कामरान पुलवामा, अवंतीपुरा और त्राल में सक्रिय था

लिए गए ये 4 बड़े फैसले...

- पुलवामा आतंकी हमले के बाद कैबिनेट की सुरक्षा मामलों की समिति की बैठक हुई, जिसमें सरकार ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस लिया

- पाकिस्तान से सभी सामानों के आयात पर 200% का शुल्क लगाया गया

- आतंकवादियों के प्रति नरम रुख रखने वाले हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा वापस ली गई

- पुलवामा आतंकी हमले का मास्टरमाइंड कामरान गाजी ढेर