औद्योगिक उत्पादन की रफ्तार गिरकर हुई 3.8%

नई दिल्ली ( 10 नवंबर ): मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में खराब प्रदर्शन के चलते सितंबर महीने में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर घटकर 3.8 प्रतिशत हो गई है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक विनिर्माण क्षेत्र के खराब प्रदर्शन के साथ साथ टिकाऊ उपभोक्ता सामान खंड में गिरावट से भी औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि प्रभावित हुई। 

एक साल पहले समान महीने में यह 5 फीसदी थी और इस वित्त वर्ष के अगस्त में 4.5 फीसदी थी। चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 2.5 प्रतिशत रही। पिछले वित्त वर्ष की समान छमाही में यह 5.8 प्रतिशत थी।

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (CSO) की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, सितंबर में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर (सूचकांक में इसकी 77.63 हिस्सेदारी होती है) 5.8 फीसदी से गिरकर 3.4 फीसदी पर आ गया।