बिल्डर्स के खिलाफ कमिश्नर से बायर्स ने लगाई यह गुहार

नई दिल्ली (28 अगस्त) : उन बायर्स की जिन्होंने बिल्डर को सर्विस टैक्स चुकाया और दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले के बाद अब वो बायर्स सर्विस टैक्स की रकम वापस लेने के लिए कोशिशों में जुटे हैं। चीफ एक्साइज़ कमीश्नर दिल्ली से गुहार लगाने के लिए 500 से ज्यादा बायर्स ने नोटिस तैयार किया है। अगर एक्साइज डिपार्टमेंट से रास्ता नहीं निकला तो कोर्ट में भी जाने की तैयारी है। 

दरअसल, इसी साल जून के महीने में दिल्ली हाईकोर्ट ने उन बायर्स को बड़ी राहत दी थी, जिन्होंने साल 2010 से जून 2012 के बीच फ्लैट्स की बुकिंग कराई थी और सर्विस टैक्स अदा किया था। कोर्ट ने अदा किए गए सर्विस टैक्स को वापस करने का आदेश दिया था। बायर्स के हकों के लिए काम कर रहे संगठन नेफोवा के ज़रिए सर्विस टैक्स को वापस पाने के लिए बायर्स ने भी कमर कस ली है।

 

बायर्स को देने के लिए पैसे नहीं...अब

एक बिल्डर ने सुप्रीम कोर्ट में बायर्स का पैसा लौटाने को लेकर हाथ खड़े कर दिए हैं। बिल्डर का नाम है पार्श्वनाथ। इसके गाज़ियाबाद में एक प्रोजेक्ट में 2007 में लोगों ने फ्लैट बुक कराए। साल 2011 में पजेशन का वादा था। जब फ्लैट नहीं तो बायर्स ने बिल्डर के ख़िलाफ़ मोर्चा खोल दिया। अब पार्श्वनाथ की तरफ से कोर्ट में कहा गया है कि उनके पास पैसे नहीं है।

 

नए प्रो़ेक्ट्स पर लगा 'ब्रेक'

एनसीआर में बिल्डर्स नए प्रोजेक्ट को लॉन्च करने से परहेज कर रहे हैं। बिल्डर्स का फोकस पुराने प्रोजेक्ट को पूरा करने पर है। नए रियल एस्टेट कानून के सख़्त प्रावधानों का डर इसकी सबसे बड़ी वजह है। पूंजी की कमी भी बिल्डर्स को नए प्रोजेक्ट्स में हाथ डालने से रोक रही है।

देखिए न्यूज़24 की रिपोर्ट...

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=sFH8-lei52Y[/embed]