मान गए गिरिराज, शाह से मिलकर पटना पहुंचकर बोले नहीं था नाराज

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (27 मार्च): 2019 लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी, राहुल गांधी, अखिलेश यादव, मायावती और केजरीवाल जैसे नेताओं के बयान सुर्खियां बटोर रहे हैं। कही बीजेपी से उसके साथी नाराज हैं तो कहीं कांग्रेस के, ऐसे में यह कहना काफी मुश्किल होगा कि लोकसभा चुनावों में किसका पलड़ा भारी है। आज दिल्ली में आप और कांग्रेस के गठबंधन पर भी फैसला होने की उम्मीद है, हालांकि प्रदेश कांग्रेस इस मुद्दे को लेकर दो गुटो में बंटी है।

मान गए गिरिराज, पटना पहुंचकर बोले नहीं था नाराजपटना पहुंचे गिरिराज सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मैं नाराज नहीं था। केवल कुछ चीजों को लेकर प्रदेश नेतृत्व से शिकायत थी। मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी से मिला, उन्होंने काफी देर तक मेरी बातों को सुना और उसका समाधान भी किया। मैं अमित शाह जी का शुक्रिया अदा करता हूं। (सौरव कुमार की रिपोर्ट)

29 मार्च को औरंगाबाद में रैली करेंगे अमित शाह, यहां से सुशील सिंह मैदान में29 मार्च को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह औरंगाबाद में एक सभा को संबोधित करेंगे। औरंगाबाद से बीजेपी के उम्मीदवार वर्तमान सांसद सुशील सिंह मैदान में है। (अमिताभ ओझा की रिपोर्ट)

पंकजा मुंडे के समर्थकों ने कांग्रेस कार्यकर्ता को पीटामंत्री पंकजा मुंडे के समर्थकों ने कांग्रेस के कार्यकर्ता की पिटाई की। भाजपा उम्मीदवार प्रीतम मुंडे की उम्मीदवारी पर सवाल उठाने वाले कांग्रेस कार्यकर्ता दादासाहेब मुंडे की कलेक्टर दफ़्तर में पिटाई की गयीं। पंकजा मुंडे के 8 से 10 समर्थकों ने दादासाहेब की आज शाम 5 बजे जमकर पिटाई की। दादासाहेब मुंडे पहले भारतीय जनता पार्टी में थे और दिवंगत गोपीनाथ मुंडे के करीबी थे, लेकिन बाद में वो कांग्रेस में चले गए। फिलहाल इस मारपीट को लेकर  पुलिस में मामला दर्ज नहीं किया गया। (विनोद जगदाले की रिपोर्ट)

बिहार बीजेपी की बागियों को चेतावनी, नामांकन वापस लें या करवाई के लिए तैयार रहेंबिहार बीजेपी ने अपने दो बागी नेताओं को चेतावनी दी है कि वे अपना नामांकन वापस लें या करवाई के लिए तैयार रहें। प्रदेश नेतृत्व ने पार्टी से बगावत कर बांका से निर्दलीय नामांकन दाखिल करने वाली पूर्व सांसद पुतुल कुमारी और कटिहार से निर्दलीय नामांकन दाखिल करने वाले MLC अशोक अग्रवाल को अपना नामांकन वापस लेने को कहा है। (सौरव कुमार की रिपोर्ट)

शिवपाल यादव ने बहू डिंपल यादव के खिलाफ कन्नौज से उतारा लोकसभा उम्मीदवार सुनील सिंह राठौर। डिम्पल के खिलाफ लड़ेंगे चुनाव।

राजद ने चतरा से सुभाष यादव को चुनाव मैदान में उतारा 

राजद ने चतरा से सुभाष यादव को चुनाव मैदान में उतारा है। पटना में राबड़ी देवी ने सुभाष यादव को पार्टी का सिंबल दिया। चतरा सीट पर राजद द्वारा प्रत्याशी दिए जाने के बाद कांग्रेस ने राजद को खुला अल्टीमेटम देते हुए कहा है कि महागठबंधन में रहना है तो उसे हर हाल में चतरा सीट से अपने प्रत्याशी को वापस लेना होगा। (सौरव कुमार की रिपोर्ट)

भाजपा ने गुजरात से 3 उम्मीदवारों के नाम किए घोषित, मौजूदा सांसदों का टिकट कटाभाजपा ने गुजरात में तीन उम्मीदवारों के नाम घोषित किए हैं। तीनों ही सीटों पर नए चेहरों को पार्टी का उम्मीदवार बनाया गया है, जबकि तीनों मौजूदा सांसदों का टिकट काट दिया गया। पोरबंदर से जयेश रादडिया की जगह रमेश धडूक को टिकट। बनासकांठा में हरिभाई की जगह परबत पटेल को टिकट और पंचमहल में प्रभात सिंह की जगह रतनसिंघ को टिकट। (भूपेंद्र सिंह की रिपोर्ट)

बीजेपी छोड़ सपा में शामिल हुए अंशुल वर्माअखिलेश यादव और आजम खान के के साथ सांसद बीजेपी अंशुल वर्मा मौजूद। हरदोई से सिटिंग भाजपा सांसद अंशुल वर्मा सपा में हुए शामिल। सुबह ही अंशुल ने भाजपा से चौकीदार को सौंप दिया था इस्तीफा। अंशुल का टिकट काटकर जय प्रकाश रावत को भाजपा का टिकट मिला था। (अशोक तिवारी की रिपोर्ट)

कन्हैया कुमार ने दिया सांसद पप्पू यादव को समर्थनबिहार में लोकसभा चुनाव को लेकर चल रहे टिकट बंटवारे की सरगर्मी के बीच पूर्व जेएनयूएसयू अध्यक्ष सह बेगूसराय लोकसभा सीट से सीपीआई के उम्मीदवार कन्हैया कुमार ने जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय संरक्षक सह सांसद पप्पू यादव को समर्थन देने का ऐलान कर दिया है। (सौरव कुमार की रिपोर्ट)

प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव 30 मार्च को 11 बजे फिरोजाबाद लोकसभा के लिए नॉमिनेशन करेंगे। इसके पहले 1 अप्रैल को तय थी नामांकन की तिथि। 1 अप्रैल को 'नेता जी'  के नामांकन होने की वजह से टली प्रसपा प्रमुख के नामांकन की तिथि।डर के कारण बीजेपी ने नीतीश को दी बराबर सीट: तेजस्वी तेजस्वी यादव ने गिरिराज सिंह के सहारे बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि पूरी बीजेपी ही डरी हुई है। जदयू एवं नीतीश कुमार पर भी हमला बोलते हुए कहा कि जो पार्टी पिछला चुनाव हार चुकी है, उस पार्टी को बीजेपी बराबर की सीट देकर साथ चुनाव लड़ रही है। जिसके पूरा चेहरा दागदार है, उसके चेहरे चुनाव लड़ रहे है। जिसको पास्को कोर्ट ने जांच का आदेश दिया है, उसे बीजेपी ने बराबर का मौका दिया, यह डर का ही कारण है। बीजेपी का अपना पार्टी का मामला है। कौन कहां से चुनाव लड़ेंगे सब तय है। पप्पू यादव के पर तेजस्वी का हमला बोलते हुए कहा कि जो लोग बोलते थे कि दोनों भाई अगर चुनाव जीत जाएंगे तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूंगा, मैं इस्तीफा नहीं मांग रहा हूं, लेकिन नैतिकता के आधार पर वह संन्यास दे दें। (सौरव कुमार की रिपोर्ट)लखनऊ में भोजपुरी गायक और अभिनेता दिनेश लाल यादव ऊर्फ निरहुआ ने बीजेपी ज्वाइन की। सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन्हें पार्टी में शामिल कराया।

शराब पीकर प्रत्याशी पहुंचा नामांकन करने, पुलिस ने किया गिरफ्तारबिहार के पूर्णिया में आज नामांकन का आखिरी दिन था। लिहाजा नॉमिनेशन के आखिरी दिन पर्चा भरने आए एक उम्मीदवार ने सुशासन की शराबबंदी की पोल तब खोलकर रख दी। जब शराब के नशे में ही पर्चा दाखिल करने निर्वाचन पदाधिकारी के दफ्तर चला आया। नशेड़ी उमीदवार का नाम राजीव कुमार सिंह सिंह बताया जा रहा है। जो नवगछिया जिले के नगरा इलाके का रहने वाला है। अल्कोहलिक जांच के बाद  शराब की यह मात्रा 117.6 पाई गयी है। (सौरव कुमार की रिपोर्ट)

प्रियंका गांधी लखनऊ पहुंचीं। आज अमेठी और रायबरेली जाएगी। 29 फरवरी को प्रियंका अयोध्या जाएगी। अमेठी और रायबरेली में प्रियंका गांधी वह आज करीब 2000 बूथ अध्यक्षों से मुलाकात करेंगी।

पीएम नरेंद्र मोदी फिल्म के प्रोड्यूसर को चुनाव आयोग का नोटिस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर बन रही फिल्म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ के प्रोड्यूसर को चुनाव आयोग ने नोटिस भेजा है। कांग्रेस समेत कुछ पार्टियों ने चुनाव आयोग ने फिल्म के खिलाफ शिकायत की थी। अब चुनाव आयोग ने इसी के तहत फिल्म के प्रोड्यूसर से जवाब मांगा गया है। विपक्षी पार्टियों की मांग है कि फिल्म रिलीज को चुनाव तक टाल दिया जाए। आपको बता दें कि फिल्म रिलीज़ होने की तारीख 5 अप्रैल है। पहले चरण के लिए 11 अप्रैल को मतदान होना है।

हरदोई से बीजेपी सांसद अंशुल वर्मा ने पार्टी से दिया इस्तीफाहरदोई से बीजेपी सांसद अंशुल वर्मा ने पार्टी से दिया इस्तीफा। टिकट कटने के बाद से ही बगावती तेवर में नजर आ रहे थे हरदोई सांसद अंशुल वर्मा। बीजेपी सांसद ने चौकीदार पर तंज कसते हुए भाजपा के प्रदेश कार्यालय में तैनात चौकीदार को सौंपा अपना इस्तीफा। (अशोक तिवारी की रिपोर्ट)

मायावती का कांग्रेस और बीजेपी पर ट्वीटर वारकांग्रेस के न्यूनतम आय योजना पर बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी और कांग्रेस दोनों पर हमला किया है। मायावती ने ट्वीट किया, ''सत्ताधरी बीजेपी का कांग्रेस पार्टी पर आरोप कि उसका गरीबी हटाओ-2 का नारा चुनावी धोखा है, यह सच है। परन्तु क्या चुनावी धोखा व वादाखिलाफी का अधिकार केवल बीजेपी के पास ही है? गरीबों, मजदूरों, किसानों आदि के हितों की उपेक्षा के मामले में दोनों ही पार्टियां एक ही थाली के चट्टे-बट्टे हैं।''

सपा से गठबंधन के बाद आज निषाद पार्टी की सीट का हो सकता है ऐलानसूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि सपा से गठबंधन के बाद आज निषाद पार्टी की सीट का हो सकता है ऐलान। गोरखपुर से प्रवीण निषाद और महराजगंज सीट भी दी जा सकती है। (अशोक तिवारी की रिपोर्ट)

दिग्विजय ने दरगाह पर मांगी जीत की दुआभोपाल आने से पहले ही रात करीब 3 बजे दिग्विजय सिंह रायसेन स्थित हज़रत पीर फतेह उल्लाह शाह चिश्ती रहमत उल्लाह अलय की दरगाह पर गए और जीत की दुआ मांगी। आपको बता दें कि इस दरगाह पर दिग्विजय सिंह की आस्था है और दिग्विजय जब कभी भी रायसेन से गुजरते हैं तो इस दरगाह पर आकर मत्था ज़रूर टेकते हैं। दरगाह के खादिम ने इस दौरान दिग्विजय सिंह के लिए उनकी मन्नत पूरी होने की दुआ मांगी। (गौरव शर्मा की रिपोर्ट)

सरबजीत की बहन चाहती है बीजेपी से टिकटपाकिस्तान की जेल में बंद अपने छोटे भाई सरबजीत सिंह की रिहाई के लिए पाकिस्तान जाकर लंबी कानूनी लड़ाई लड़ने वाली 64 साल की दलबीर कौर बीजेपी की टिकट पर हरियाणा के सिरसा से लोकसभा चुनाव लड़ना चाहती हैं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक नेता के माध्यम से भाजपा की चुनाव समिति को 19 मार्च को उनका आवेदन भी दाखिल कराया गया है। दलबीर कौर मूल रूप से पंजाब के तरनतारण के गांव भिखिविंड की रहने वाली हैं और 2016 में बीजेपी में शामिल हुई थीं। दलबीर कौर का दावा है कि सिरसा सिख पंजाबी बहुल इलाका है और वो वहां आती-जाती रहती है और उनके वहां अच्छे संपर्क भी हैं। (विशाल एंग्रीश की रिपोर्ट)कैप्टन अमरिंदर सिंह की पत्नी के सामने बोला पार्षद, कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं पार्टी से खुशपंजाब के पटियाला में कांग्रेस की संभावित लोकसभा उम्मीदवार पटियाला की पूर्व सांसद, पूर्व केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री और कैप्टन अमरिंदर सिंह की पत्नी परणीत कौर ने पटियाला के कांग्रेस के स्थानीय पार्षदों की एक मीटिंग बुलाई थी। जिसमें आने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर पार्षदों से फीडबैक लिया जा रहा था। इस दौरान अनिल मुदगिल नाम के एक कांग्रेस पार्षद ने कांग्रेस पार्टी के स्थानीय सीनियर लीडरों और परनीत कौर को आईना दिखाते हुए उनके सामने ही साफ लफ्जों में कहा कि पटियाला में कांग्रेस के पक्ष में माहौल नहीं है और कांग्रेस का कार्यकर्ता भी अपनी पार्टी से खुश नहीं है। पार्षद ने सीधे तौर पर कहा कि भले ही खामियां एडमिनिस्ट्रेशन में हो या पार्टी के संगठन में, लेकिन इस वक्त पटियाला में जमीनी स्तर पर कांग्रेस के पक्ष में माहौल नजर नहीं आ रहा है। पार्टी को अगर परनीत कौर को भारी वोटों से जितवाना है तो अपने कार्यकर्ताओं की सुननी होगी और आम जनता की भी सुननी होगी। (विशाल एंग्रीश की रिपोर्ट)बिहार में आतंकियों के निशाने पर थी पीएम मोदी की रैलीबिहार में एक बार फिर पीएम मोदी की रैलियां आतंकियों के निशाने पर थी। यह खुलासा पटना में गिरफ्तार आतंकी संघटन जमायत उल मुजाहिदीन और इस्लामिक स्टेट बांग्लादेश के सक्रिय सदस्य अबु सुल्तान और खैरू मंडल से पूछताछ में हुआ है। 2 अप्रैल को गया और जमुई में होने वाली रैली इन आतंकियों के निशाने पर थी। इनका इरादा चुनाव के दौरान हिंसक घटनाओं को अंजाम देकर सामाजिक और धार्मिक माहौल बिगाड़ने का था। गया में इन आतंकियों ने 11 दिन बिताए थे और गया के गांधी मैदान जहा सभा होनी थी वहां की रेकी भी किया था। (अमिताभ ओझा की रिपोर्ट)टिकट न मिलने से नाराज कांग्रेस विधायक ने दफ्तर से उठाई कुर्सियांटिकट न मिलने से नाराज कांग्रेस के विधायक ने 300 कुर्सियां कांग्रेस दफ्तर से उठवा कर ली और कार्यकर्ताओं के साथ लेकर चलते बने। अब्दुल सत्तार कांग्रेस से टिकट न मिलने से नाराज थे। सत्तार ने समर्थकों की मदद से मंगलवार को पार्टी के स्थानीय कार्यालय से 300 कुर्सियां ही उठवा लीं। मगंलवार को कांग्रेस एनसीपी की बैठक थी। सत्तार ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है, हालांकि अभी तक स्वीकारा नहीं गया है। सत्तार को जब पता चला कि दोनों पार्टी की मीटिंग होंने वाली है तो अपने कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचे और कुर्सियां उठवा ली। सत्तार के मुताबिक, कुर्सी पर मालिकाना हक उनका है। उसके बाद कुर्सियां न होने से कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक एनसीपी के दफ्तर में हुई। सत्तार को उम्मीद थी कि पार्टी उन्हें औरंगाबाद सीट से लोकसभा का टिकट देगी, लेकिन इस सीट पर विधान परिषद सदस्य सुभाष झंबाद को टिकट दिया गया। (दीपक दूबे की रिपोर्ट)महागठबंधन में सीटों को लेकर चल रही है खींचतानमहागठबंधन में सीटों के बंटवारे के बाद भी मामला सुलझा नहीं हैं। कुछ सीट को लेकर कांग्रेस और राजद के बीच रस्साकशी जारी है।दरभंगा, मधुबनी, झंझारपुर, बाल्मीकिनगर, पूर्वी चंपारण,शिवहर, उजियारपुर, सुपौल, नालन्दा,सीतामढ़ी और मुजफ्फरपुर सीटों पर मामला अभी भी फंसा हुआ है। खासकर सुपौल में रंजीता रंजन तथा दरभंगा में कीर्ति आजाद को लेकर राजद और कांग्रेस आमने-सामने दिख रहे हैं। (सौरव कुमार की रिपोर्ट)BJP सांसद ज्ञान सिंह का निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलानशहडोल- BJP सांसद ज्ञान सिंह का बड़ा बयान, निर्दलीय लड़ेंगे चुनाव। बीजेपी से हिमाद्री सिंह को टिकट मिलने से नाराज हैं सांसद ज्ञान सिंह। ज्ञान सिंह ने कहा कि निर्दलीय भरूंगा फार्म और लड़ूंगा चुनाव। (विशाल खंडेलवाल की रिपोर्ट)