खुद को मान बैठा 'पृथ्वीराज चौहान' : दूसरे की दुल्हन को उठाने मंडप पर जा धमका

बरेली (19 फरवरी) :  एक हाथ में तलवार, दूसरे हाथ में देसी कट्टा। साथ ही ज़ोर ज़ोर से बोलते हुए कि 'मैं पृथ्वीराज चौहान हूं',  एक युवक शादी के मंडप में घुस गया। साथ ही मंडप में बैठी दुल्हन को ज़बरन साथ ले जाने की कोशिश करने लगा। 26 वर्षीय महावीर की इस हरकत पर मौके पर मौजूद लोगों ने जमकर पिटाई की और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने महावीर के खिलाफ़ एफआईआर दर्ज की है।

महावीर का कहना है कि जिस तरह पृथ्वीराज चौहान अपनी प्रेमिका संयुक्ता को स्वयंवर में घुसकर उठा ले गए थे, वैसा ही कुछ वो करना चाहता था। ये वाकया शिखा झाऊ नागला गांव का है जहां उत्तराखंड के रुद्रपुर से बारात आई हुई थी। जयमाला की रस्म के दौरान जैसे ही दुल्हन और दूल्हा एक दूसरे को माला पहनाने जा रहे थे, वैसे ही महावीर अपने दोस्तों के साथ मंच पर जा धमका।

यहीं नहीं महावीर मंच पर दूल्हा-दुल्हन के रिश्तेदारों को भी हड़काने लगा। महावीर की जमकर धुनाई के बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया। महावीर के घरवालों का दावा है कि उसका मानसिक संतुलन नहीं है।